National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

कांग्रेस हो या आम आदमी पार्टी सबने अपने वोट बैंक को खुश करने के लिए तुष्टिकरण की राजनीति की- दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’

विजय न्यूज़ ब्यूरो
नई दिल्ली । दिल्ली विधानसभा चुनाव में प्रचार करते हुए आज भाजपा नेता श्री दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ ने विश्वासनगर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी श्री ओ पी शर्मा, करोल बाग से श्री योगेंद्र चंदोलिया, दिल्ली कैंट से श्री मनीष चैधरी, रोहिणी से श्री विजेंद्र गुप्ता, सदर से श्री जय प्रकाश व जनकपुरी श्री आशीष सूद के समर्थन में नुक्कड़ सभाओं को संबोधित करते हुए जनता से भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील की। इस अवसर पर प्रदेश, जिला व मंडल के पदाधिकारी और सैंकड़ों की संख्या में क्षेत्रीय लोग उपस्थित थे।

भाजपा नेता श्री दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ ने कहा कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी का अच्छे बीते पांच साल का बैनर देखकर हंसी आती है, एक तरफ केजरीवाल कहते हैं कि मोदी जी उन्हें काम नहीं करने दे रहे हैं, अब जब काम ही नहीं करने दिया तो पांच साल कैसे अच्छे बीत गए। केजरीवाल ने खुद ही साबित कर दिया कि वो झूठ बोलते हैं। केजरीवाल सरकार ने हवा-हवाई वादे बहुत किए और दिल्ली की जनता ने प्रलोभन में उन्हें चुना, उनपर विश्वास दिखाया लेकिन केजरीवाल इस भरोसे को बनाए रखने में फेल हो गए। दिल्ली को ऐसे सरकार की जरूरत है जो अपने वादों पर खरी उतरती हो और ऐसा सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है। मोदी जी ने नेतागिरी का मतलब बदला, राजनीतिक पार्टियों को सम्मान दिलाया और अब 70 साल लटके मुद्दों को सुलझाकर ये साबित किया भाजपा के लिए राष्ट्रहित सर्वोपरि है। कश्मीर में पहले कुछ अराजकवादी लोग तिरंगे को अपामानित किया जाता था लेकिन जब से मोदी जी की सरकार आई है तिरंगा शान से कश्मीर में लहराता। कांग्रेस हो या आम आदमी पार्टी या सपा, सबने अपने वोट बैंक को खुश करने के लिए तुष्टिकरण की राजनीति की लेकिन भाजपा ने देश की सुरक्षा और समृद्धि को प्राथमिकता दी।

‘निरहुआ’ ने कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में एक तरफ नफरत की राजनीति करते हुए हिंसा फैलाने वाली पार्टी है और दूसरी तरफ राष्ट्रवाद की विचारधारा रखने वाली पार्टी है। दिल्ली के लोगों को दिल्ली का भविष्य सुरक्षित करने के लिए सोच-समझ कर फैसला लेने है। केंद्र सरकार ने जब से नागरिकता संशोधन कानून को लागू किया है विपक्ष लगातार इसे लेकर लोगों को भड़का रही है जबकि मोदी जी, अमित शाह जी, कानून मंत्री तक ने कई बार कहा है कि ये कानून किसी भी भारतीय नागरिक पर लागू नहीं होता है बल्कि शरणार्थियों को नागरिकता देने के लिए है। दिल्ली से टुकड़े-टुकड़े गैंग को समर्थन देने वाली सरकार को बाहर निकालने के लिए दिल्ली के लोग 8 फरवरी को कमल के निशान का बटन दबाकर दिल्ली में भाजपा की सरकार बनाएगी।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar