न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री राहत कोष की बजाये समाजसेवी संस्थाओं को दान दें : हरीश चन्द्र आज़ाद

गुरूद्वारों में दिखती है मानवता की मिसाल इसलिये एैसी जगह दान दें

फरीदाबाद । समाजसेवी हरीश चन्द्र आज़ाद ने कहा कि जितना पैसा हम लोग प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री राहत कोष में देते हैं वही पैसा हम अच्छी समाजसेवी संस्थाओं को दें तो उसका पाई पाई जरूरतमंदों तक पहुंचेगा जिसकी मिसाल कोरोनाकाल में खूब देखी जा सकती है । प्रधानमंत्री राहत कोष का पैसा जरूर जरूरतमदों की सहायता के लिये निकलता होगा लेकिन वह पैसा जरूरतमंदो तक पहुंचता है या नहीं यह कोई नहीं जानता , देश का हर नागरिक जानता है कि सरकारी कोषों से निकला 100 रूपया जरूरतमंदो तक 10 पैसे बहुत मुश्किल से पंहुच पाता है । आज़ाद ने कहा कि देश में किसी भी तरह की आपदा के समय हर समाजसेवी संस्था जरूरतमंदो तक सहायता पहुंचाने में सबसे आगे रहती है इसलिये एैसे समय में हर तरह का दान समाजसेवी संस्थाओं में किजिऐ ।
हरीश आज़ाद ने कहा कि देश में हर आपदा के समय गुरूद्वारों के द्वार प्रत्येक जरूरतमंद के लिये खुल जाते हैं आज कोरोनाकाल में हर नागरिक में मन में गुरूद्वारों व सिखों के लिये आदरणीय व धार्मिक भावना दिख रही है क्योंकि गुरूद्वारों के भंडार आज जरूरतमंदो के लिये पूरी तरह से खोल दिये गये हैं आज तक हम सबने गुरूद्वारों में अंन्न भंडारा सुना था आज उन्हीं गुरूद्वारों में जीवन रक्षक आक्सीज़न के भंडारे लगे हुए हैं यही मानवता व एक सच्चे हिन्दुस्तानी की असली पहचान है इसलिये मेरी देशवासीयों से प्रार्थना है कि कहीं भी दान करने से पहले या आपदा फंड देने से पहले यह जरूर सोच लें कि कहां दिया हुआ फंड जरूरतमंद को सही तरीके से पहुच रहा है ।
आज़ाद ने कहा कि मैं यह नही कहता कि सरकारी कोषों में दिया आपदा फंड सही जगह नही लगता लेकिन मैं तो क्या देश का हर नागरिक यह जानता है कि किस माध्यम से यह फंड सही समय पर और शत-प्रतिशत जरूरतमंद तक पहुचता है इसलिये आज समय के साथ हमारी धार्मिक भावनाओं में भी परिवर्तन का समय आ गया है अंधविश्वासी न होकर सही जगर दान दें बस यही तेजी के साथ बदलते समय की माँग है ।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar