National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

डीयू-जेएटी 2020 के परिणाम घोषित

एआईआर 3 के साथ अनुष्का चतुर्वेदी को डीयू के बीएमएस में प्रवेश मिला

नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय के जॉइंट एडमिशन टेस्ट (डीयू-जेएटी) 2020 के परिणाम हाल ही में घोषित किए गए, जिसमें प्रथम टेस्ट प्रेप की छात्रा अनुष्का चतुर्वेदी ने ऑल इंडिया रैंक 3 हालिस किया है। दिल्ली विश्वविद्यालय के अंडरग्रेजुएट मैनेजमेंट कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए देश भर से लगभग 18,000 छात्र कंप्यूटर आधारित प्रवेश परीक्षा के लिए उपस्थित हुए थे। टेस्ट में उपस्थित सभी छात्रों में से अनुष्का को बीएमएस के लिए शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ बिजनेस स्टडीज (दिल्ली विश्वविद्यालय) में प्रवेश मिलेगा। यह एकमात्र परीक्षा है जिसके माध्यम से दिल्ली विश्वविद्यालय के मैनेजमेंट प्रोग्राम में प्रवेश लिया जा सकता है। प्रथम टेस्ट प्रेप के मैनेजिंग डायरेक्टर अंकित कपूर ने बताया कि, “इस साल परीक्षा के स्तर में कई बदलाव देखने को मिले। इसका स्तर मध्यम से कठिन के बीच रहा। पीडब्ल्यूडी श्रेणी के अंतर्गत पहली रैंक प्राप्त करने वाला छात्र हरमनदीप सिंह शाहनी भी शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ बिजनेस स्टडीज में प्रवेश पाने के लिए योग्य है। हर साल की तरह इस साल भी सभी छात्र उम्मीदों पर खरे उतरे। सफलता का इतिहास एक बार फिर दोहराया गया, जहां टॉप 10 में से 4 छात्र हमारे थे। टॉप 10 में शामिल होने वाले छात्रों में सार्थक बिंदल (एआईआर 4) और अनिरुद्ध गुप्ता (एआईआर 7) शामिल रहे। टॉप 100 में कुल 60 छात्रों के बीच छात्र मनन जैन ने एआईआर 11 हासिल किया। सभी छात्रों ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन और कठिन प्रयासों से हमारा सिर गर्व से ऊँचा कर दिया है।”
कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए परीक्षा 7 सितंबर 2020 को पूरी सुरक्षा और सावधानियों के साथ संचालित की गई थी। यह परीक्षा 2 शिफ्ट में आयोजित की गई थी। डीयू-जेएटी दिल्ली विश्वविद्यालय की सबसे अधिक डिमांड में रहने वाली प्रवेश परीक्षा है जो बीएमएस/बीएफआईए / बीबीए जैसे मैनेजमेंट कार्यक्रमों के लिए प्रतिवर्ष आयोजित की जाती है। इस टेस्ट में उपस्थित होने के लिए 12वीं में छात्रों के पास गणित होना अनिवार्य है। इस कोर्स में प्रवेश परीक्षा (65 प्रतिशत की महत्ता) और 12वीं कक्षा (35 प्रतिशत की महत्ता) में मिले अंको के आधार पर प्रवेश मिलता है।
अनुष्का चतुर्वेदी, एआईआर 3 ने अपनी कृतज्ञता जाहिर करते हुए कहा कि, “प्रथम टेस्ट प्रेप के सभी शिक्षकों ने तैयारी के दौरान मेरी हर संभव तरीके से मदद की है। उनकी सहायता के बिना यह सफलता संभव नहीं थी। कोरोना में हमें ऑनलाइन तैयारी करने का मौका मिला, जहां बेहतरीन शिक्षकों और उचित स्टडी मटीरियल के साथ कभी ऐसा महसूस ही नहीं हुआ कि हमारी तैयारी में किसी प्रकार का कोई फर्क आया है। शिक्षकों ने हमें सभी कॉन्सेप्ट इस प्रकार समझाया कि उन्हें आसानी से भुला नहीं जा सकता था।” दिल्ली विश्वविद्यालय-जॉइंट एडमिशन टेस्ट (डीयू जेएटी) हर साल 18 शहरों में आयोजित किया जाता है। बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (बीएमएस) के लिए 6 निर्धारित कॉलेज हैं, बिजनेस इकोनॉमिक्स में बी.ए (ऑनर्स) के लिए 8 निर्धारित कॉलेज हैं और बीबीए (एफआईए) कार्यक्रमों के लिए डीयू से अफिलिएटेड संस्थान हैं। इस परीक्षा का उद्देश्य छात्रों को अंडरग्रेजुएट मैनेजमेंट प्रोग्राम में प्रवेश के लिए शॉर्टलिस्ट करना है। अंकित कपूर ने अधिक जानकारी देते हुए कहा कि, “पिछले कई वर्षों से यह संस्थान खुद को एक ब्रांड के रूप में स्थापित करता रहा है और हजारों छात्रों के बीच लोकप्रियता हासिल करता रहा है। कोविड की परिस्थिति में, जहां अधिकतर संस्थान बंद हो चुके थे, प्रथम ने अपने छात्रों की तैयारी में कोई कमी नहीं आने दी। इतने सालों में, लगभग 12 सालों के अनुभव के साथ, प्रथम बारहवीं कक्षा के छात्रों को अपने सपनों को पूरा करने में सहायता करता रहा है। हमारी सफलता यह साफ करती है कि हम अपने छात्रों के लिए एक उचित माहौल तैयार करते हैं।”

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar