National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

आठवां ग्लोबल फेस्टिवल आफ जर्नलिज्म सम्पन्न

  • पत्रकारिता की भावी पीढी निष्पक्ष, निडर होकर देश व समाज के लिए बेहतर करेंगेः संदीप मारवाह

राजू बोहरा। विजय न्यूज़
नई दिल्ली। पत्रकारिता के माध्यम से प्रेम, शांति और एकता की भावनाओ को सफल बनाने के उद्देश्य से मारवाह स्टूडियो काम्प्लेक्स मे इंटरनैशनल जर्नलिज्म सेंटर द्वारा आठवां “ग्लोबल फेस्टिवल आफ जर्नलिज्म का भव्य आयोजन 12 से 14 फरवरी तक डॉ संदीप मारवाह फेस्टिवल प्रेसीडेंट एंड चांसलर एएएफटी यूनिवर्सिटी आफ मीडिया एंड आर्ट की अध्यक्षता में आयोजित किया गया।

आयोजित महोत्सव मे पत्रकारिता जगत से जुडी गतिविधियो मे संगोष्ठी, डाक्यूमेंट्री मेकिंग वर्कशाप, पुस्तक विमोचन, फिल्म स्क्रीनिंग और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भव्य आयोजन किया गया। महोत्सव में देश-विदेश के वरिष्ठ एवं कनिष्ठ पत्रकारों की बड़ी संख्या मे भागीदारी रही। मीडिया जगत से जुड़े आमंत्रित जाने माने अतिथि वक्ता छात्र-छात्राओं से रूबरू हुए, उन्हे निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता से अवगत कराया।
महोत्सव समापन संगोष्ठी मे हिंदी अखबारों में पत्रकारिता, संघर्ष और चुनौतियां विषय पर पत्रकारिता के छात्र-छात्राओं से खचाखच भरे स्टूडियो मे डॉ संदीप मारवाह की अध्यक्षता तथा भारत मे अर्मीनिया राजदूत ही आर्म्स मार्टीरोषयान मुख्य अतिथि के सानिध्य में दीप प्रज्वलन तथा प्रथम पूज्य गणेश को माल्यार्पण की रस्म अदायगी के साथ प्रो.अल्बीना अब्बास एसोसिएट डायरेक्टर एसओजेएमसी ने पत्रकारिता के संबन्ध उपस्थित अतिथियों व छात्रों को अहम जानकारियां देते हुए पत्रकारिता को एक बहुत ही जिम्मेदारी बताई।
इस मौके पर संदीप मारवाह ने कहा की तीन दिन के फेस्टिवल में हमने बहुत कुछ जाना, सीखा और समझा है, मैं आप सब गुणी लोगों का धन्यवाद देता हूँ की आपने अपने बहुमूल्य समय से कुछ समय आने वाली पीढ़ी को वक्त दिया जिसे यह अपने जीवन में कहीं न कहीं जरूर प्रयोग करेंगे। उन्होंने कहा मुझे पूरी उम्मीद है कि इस संस्थान से निकलकर ये छात्र निडर और निष्पक्षता से पत्रकारिता के शिखर को छूकर देश और समाज के लिए बेहतर कार्य करेंगे। उन्होंने कहा इन तीन दिनों में हमने कई किताबों का विमोचन किया और कई प्रदर्शनियो का आयोजन किया।

समापन कार्यक्रम में वरिष्ठ पत्रकार व सी एम पपनैं राष्ट्रीय महासचिव एन एफ एन ई राष्ट्रीय महासचिव सी एम पपनै ने अपने पत्रकारिता के अनुभवों को सांझा करते हुए पत्रकारिता की बारीकियों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता पैसा कमाने के लिए नहीं बल्कि एक ईमानदार मिशन के रूप में स्वीकार करें।
आज समाज ने वरिष्ठ पत्रकार शीवेन्द्र ने कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि आज पत्रकारिता के सामने बहुत बडी चुनौतियां हैं उसके लिए हमें तैयार रहना है। उन्होंने कहा कि आज सबसे बडी चुनौति पत्रकारिता का व्यवसाय के रूप में परिवर्तन भी है। उन्होंने भावी पत्रकारिता जगत के सदस्यों को बताया कि यदि आप ईमानदारी से पत्रकारिता को एक मिशन के रूप में स्वीकार करेंगे तो आप देश और समाज के लिए बहुत बडा योगदान देंगे। उन्होंने कहा कि आपकी लेखनी में इतनी ताकत होनी चाहिए कि आप किसी की भी राह मोडने में सक्षम हों और अच्छाई और बुराई को आईने की तरह समाज के सामने ला सकें।

वरिष्ठ फिल्म पत्रकार राजु बोहरा ने इस अवसर पर कहा कि पत्रकारिता कैरियर है। जो सही है, वही सही है, यही पत्रकारिता है। पत्रकार को प्रतिदिन नया जीवन जीने का मौका मिलता है। पत्रकारिता के छात्र पत्रकारिता के महत्व व प्रैस के कायदे कानूनों को भली भांति जाने व समझे। घटना की प्रत्यक्ष तहकीकात कर सच को उजागर करे।
समापन समारोह में अतिथि वक्ताओं में वरिष्ठ पत्रकार दिनेश अविनाशी, दाताराम चमोली वरिष्ठ पत्रकार, सिभिनरा कुमार वरिष्ठ पत्रकार, संतोष कुमार सरस प्रबंध संपादक पीसमेकर, विपिन गौड महासचिव एनएआई, सीमा गंभीर जी टीवी फेम-डिली डारलिंग्स, डाॅ एमबी दुआ सहित अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे। सभी अतिथियों ने पत्रकारिता से जुड़े छात्र-छात्राओं को संबोधित किया गया।
महोत्सव निदेशक सुशील भारती द्वारा सभी अतिथियों, वरिष्ठ पत्रकारो तथा छात्र-छात्राओं का प्रतिष्ठित महोत्सव मे भागीदारी कर सफल बनाने हेतु आभार व्यक्त किया गया। आठवे ग्लोबल फेस्टिवल आफ जर्नलिज्म के समापन की घोषणा की गई।
आयोजक इंटरनेशनल जर्नलिज्म सेंटर द्वारा सभी अतिथि वक्ताओ को सम्मान स्वरूप पुष्पगुच्छ, स्मृति चिन्ह तथा सेंटर की आजीवन सदस्यता से नवाजा गया।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar