National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

एरा फाउंडेशन ने मायनीट लॉन्च किया

एरा फाउंडेशन ने मायनीट लॉन्च किया, जो भारत में नीट की तैयारी के लिए राष्ट्रीय स्तर की एकमात्र परीक्षा है

विजय न्यूज़ ब्यूरो
नई दिल्ली। कर्नाटक के इंजीनियरिंग सीट सेलेक्शन एवं परामर्श फोरम कॉमेड-ंउचयके के आयोजक एरा फाउंडेशन ने मायनीट लॉन्च किया है, जो भारत में नीट (मेडिकल सीट सेलेक्शन टेस्ट) के लिये राष्ट्रीय स्तर का एकमात्र मॉक एक्जाम है। इस परीक्षा का लक्ष्य अभ्यर्थियों को एक कृत्रिम वातावरण में असली ‘नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेन्स टेस्ट’ में बैठने का अनुभव देना है। मायनीट का संचालन 4 जनवरी, 2020 को भारत में लगभग 400 केन्द्रों पर होगा। नीट भारत की सबसे प्रतिस्पर्द्धी परीक्षाओं में से एक है, जिसकी सफलता दर केवल 15 प्रतिशत है। हर वर्ष लगभग 15 लाख विद्यार्थी भारत के मेडिकल कॉलेजों की 75,000 सीटों के लिये नीट में भाग लेते हैं। एरा फाउंडेशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री मुरलीधर ने कहा, ‘‘नीट के अवसर और पैमाने को देखते हुए पहली बार नीट में भाग लेने का अनुभव विद्यार्थियों के लिये डरावना हो सकता है। हमें लगता है कि एक कृत्रिम वातावरण में मॉक एक्जाम देने से इन विद्यार्थियों को लाभ हो सकता है। मॉक एक्जाम के प्रश्न शिक्षाविदों ने यह ध्यान में रखकर चुने हैं कि नीट में कठिनाई का वास्तविक स्तर और जटिलताएं कैसी होती हैं। शिक्षाविद विषयों के विशेषज्ञ हैं, जिन्हें ऑल इंडिया एंट्रेन्स एक्जाम्स के प्रश्न चुनने का अनुभव है। श्री मुरलीधर ने आगे कहा, ‘‘हम विद्यार्थियों को उनके प्रदर्शन की एक विस्तृत और व्यक्तिपरक रिपोर्ट भी देंगे। इससे उन्हें यह सम-हजयने में मदद मिलेगी कि देशव्यापी परीक्षा में वह कहाँ ठहरते हैं, उनकी ताकत, कमजोरियाँ और वे कौन-ंउचयसे विषय हैं, जिनमें उन्हें सुधार के लिये परिश्रम करना है। मायनीट के प्रोटोकॉल सभी पहलुओं में नीट जैसे ही हैं, जिनमें परीक्षा के लिये फिजिकल टेस्ट सेंटर जाना, अपेक्षित ड्रेस कोड के साथ निरीक्षकों द्वारा निगरानी। अंतर केवल यह है कि मायनीट का संचालन इन क्षेत्रों में ऑनलाइन होगा, जबकि नीट एक लिखित परीक्षा है। इस परीक्षा के लिये पंजीयन 15 नवंबर से 22 दिसंबर 2019 तक होगा।

Print Friendly, PDF & Email
Translate »