National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

लालकिले पर आयोजित ‘राष्ट्रीय कवि सम्मेलन‘ में जुटे नामी कवि

-दिल्ली सरकार का सालाना आयोजन
-कवियों को सुनने हजारों की संख्या में जुटे काव्यप्रेमी

रमेश ठाकुर। विजय न्यूज़
नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के हिंदी अकादमी की ओर आयोजित राष्ट्रीय कवि सम्मेलन में इस बार कई नामचीन कवियों ने कवितापाठ किया। गणतंत्र महोत्सव के उपलक्ष्य में आयोजित होने वाले इस सालाना कवि सम्मेलन में देश-विदेश के आए रचनाकार ऐतिहासिक लालकिले की प्राचीर से अपना कविता पाठ करते हैं। अकादमी के सचिव डॉ.जीतराम भट्ट ने बताया कि इस बार ज्यादातर युवा कवियों को मौका दिया गया जिनमें चिराग जैन, पंकज शर्मा और कवित्रियों में रूचि चतुर्वेदी, नीलोत्पल मृणाल, पूजा कौशिक, प्रज्ञा शर्मा जैसों को आमंत्रित किया गया। कार्यक्रम का आगाज शाम आठ बजे शुरू हुआ जो देर रात तक चलता रहा। भीषण ठंड होने के बावजूद भी काव्यप्रेमियों की संख्या काफी थी।
मंच पर जब कविताओं की फुआर शुरू हुई तो कवि अनित्य नारायण मिश्र उर्फ जौनपुरी, अरूण जैमिनी व ज्ञान प्रकाश आकुल जैसे हास्य कवियों ने खूब बाहवाही लूटी। लाल किले का यह मंच साहित्य के लिए बहुत प्रसिद्व है इस मंच से रामधारी सिंह दिनकर, मैथिलीशरण गुप्त, शिवमंगल सिंह सुमन जैसे राष्ट्रकवियों ने रचनापाठ किया है। गीतकार पंकज जैन की कविताएं काफी पसंद की गईं। दरअसल, उनकी कविताओं में जहां प्रेम और श्रृंगार होता है तो वहीं एक ऐसा रचनाकार भी है जो सामयिकता को भी ध्यान रखता है। पकंज ने संवाददाता से बातचीत में बताया कि जब वह लालकिले से गुजरते थे तो सोचते थे काश एक दिन ऐसा आए जब वह भी इस मंच से कविता पाठ करें। आज उनका वह ख्वाह पूरा हुआ। इस मौके पर अकादमी के उपाध्यक्ष एवं प्रसिद्व हास्य कवि सुरेंद्र शर्मा ने आमंत्रित सभी कवियों का धन्यवाद किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता गीतकार प्रो0 सोम ठाकुर ने की। संचालन प्रवीण शुक्ल द्वारा किया गया।

 

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar