National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

सरकारी अस्पताल की बड़ी लापरवाही, स्ट्रेचर पर 11 दिन से पड़ी लावारिस लाश बनी कंकाल

इंदौर। मध्य प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल से दिल दहला देने वाली तस्वीर सामने आई है. करीब 11 दिन पहले एमवाय अस्पताल में लाई गई लावारिस शव स्ट्रेचर पर रखे रखे सड़कर कंकाल में तब्दील हो गई. अस्पताल अब इस मामले में जांच और दोषियों पर कार्रवाई की बात कह रहा है.
अस्पताल अधीक्षक डॉ. पीएस ठाकुर ने बताया कि अज्ञात शव हम एक सप्ताह तक रखते हैं. शव के अंतिम संस्कार को लेकर नगर निगम को फोन किया गया था या नहीं, इसकी जानकारी ली जा रही है. इंचार्ज को भी नोटिस दिया गया है. किसी की लापरवाही सामने आती है तो कार्रवाई की जाएगी.
एमवाय अस्पताल प्रदेश का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल है. इंदौर कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है. अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि रोज़ाना उनके मुर्दाघर में 21-22 लाशें आ रही हैं, जबकि वहां सिर्फ 16 फ्रीजर मौजूद हैं, डॉ ठाकुर ने कहा हमारे पास संसाधन भी सीमित हैं. हमने कई बार प्रशासन के सामने और फ्रीजर मंगवाने के लिए कई खत लिखा है.
दरअसल मंगलवार को जब अस्पताल परिसर में बहुत ज्यादा बदबू आ रही थी, फिर किसी ने स्ट्रैचर पर चादर हटाई तो शव के साथ व्यवस्था की भी वीभत्स तस्वीर सामने आई. मामला सामने आने के बाद तुरंत शव को हटवाया गया.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar