न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

IND vs AUS: चोट के चक्रव्यूह में फंसी Team India, आधी टीम हुई चोटिल, कौन है जिम्मेदार?

सिडनी। ब्रिसबेन टेस्ट से पहले टीम इंडिया (Team India) मुश्किल में नजर आ रही है. टीम के आधे से ज्यादा खिलाड़ी चोटिल हो गए हैं. ऐसा शायद ही कभी देखा होगा कि लगभग पूरी टीम चोट से जूझ रही हो. सीरीज अभी 1-1 से बराबर है और आखिरी मैच तेय करेगा कि चैंपियन कौन बनता है. ऐसे में ब्रिसबेन टेस्ट बेहद अहम होगा. लेकिन भारतीय टीम इससे कैसे पार पाएगी ये देखना दिलचस्प होगा.

आधी से ज्यादा टीम हुई चोटिल
सिडनी टेस्ट के बाद टीम इंडिया (Team India) के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) और हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) चोटिल हो गए हैं. ऐसे में ये तीनों खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी टेस्ट में हिस्सा नहीं ले पाएंगे.  जानकारी के मुताबिक बुमराह (Jasprit Bumrah) के स्कैन की रिपोर्ट में खिंचाव का पता चला है और भारतीय टीम प्रबंधन इंग्लैंड के खिलाफ चार टेस्ट की आगामी श्रृंखला को देखते हुए उनकी चोट के बढ़ने का जोखिम नहीं लेना चाहता.
सूत्र ने कहा, ‘अगर हम 50 प्रतिशत फिटनेस के साथ उसे खिलाने का जोखिम उठाते हैं, ऐसे में अगर उसकी चोट बढ़ जाए और वह मैच के बीच से बाहर हो जाए और इंग्लैंड के खिलाफ श्रृंखला के अधिकतर हिस्से से भी बाहर हो जाए तो’.
उन्होंने कहा, ‘इंग्लैंड आखिरी श्रृंखला है जिससे विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल का क्वालिफिकेशन तय होगा. हम इसके दावेदार हैं और हमें फिट बुमराह की जरूरत है’. अब खबरें ये आ रही हैं कि हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) के विकल्प माने जा रहे मयंक अग्रवाल को भी नेट पर बल्लेबाजी करते हुए हाथ में चोट लगी और उन्हें हेयरलाइन फ्रेक्चर हो सकता है.
इसके अलावा सिडनी टेस्ट के अंतिम दिन साढ़े तीन घंटे बल्लेबाजी के बाद रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) की पीठ की जकड़न की समस्या बढ़ गई जिससे भारत के पास अधिक विकल्प नहीं बचे हैं.
वहीं, केएल राहुल (KL Rahul) पहले से चोटिल हैं. उमेश यादव (Umesh Yadav) और मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) भी चोट के चलते बाहर हो चुके हैं. इसके अलावा इशांत शर्मा सीरीज का हिस्सा नहीं बन सके क्योंकि वो भी चोट से जूझ रहे थे. बता दें कि रोहित शर्मा के साथ बीसीसीआई ने लापरवाही बरती थी. आईपीएल में चोटिल होने के बाद भी उन्होंने प्लेऑफ के मुकाबले खेले थे. नतीजा, रोहित वनडे, टी20 और पहले दो टेस्ट खेलने में नाकाम रहे थे.

बीसीसीआई की लापरवाही?
मतलब भारत की लगभग पूरी टीम चोटिल है. खिलाड़ियों की फिटनेस पर बीसीसीआई इतना ध्यान देती है लेकिन फिर भी टीम की ऐसी हालत. इससे सवाल उठने लगे हैं.

लॉकडाउन के बाद टीम इंडिया (Team India) की ये पहली सीरीज है और खिलाड़ियों की फिटनेस तो सबके सामने है ही. इसका दोष किसको दिया जा सकता है, ये बड़ा सवाल है. भारतीय क्रिकेट टीम के फीजियोथेरेपिस्ट नितिन पटेल ने बताया था की लॉकडाउन में भी टीम के खिलाड़ियों की फिटनेस पर ध्यान दिया जा रहा है. लेकिन क्या ये ही ध्यान दिया गया था? पहली ही सीरीज में आधी टीम चोटिल, क्या ये लापरवाही नहीं हुई?
ऑस्ट्रेलिया के बाद टीम इंडिया को इंग्लैंड के साथ सीरीज खेलनी है, उम्मीद करते हैं कि खिलाड़ियों की फिटनेस पर टीम खास ध्यान देगी क्योंकि जो हालत अभी है उससे अंदाजा लगाया जा सकता है की भारतीय टीम की परेशानियां कितनी बढ़ सकती हैं.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar