National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

कुण्डलिया छंद

कुण्डलिया छंद

कोरोना से काँपता ,कपटी कातर चीन |
नहीं त्यागता क्रूरता,हिंसा में तल्लीन ||
हिंसा में तल्लीन, मची है हाहाकारी |
घुस गइ हिन्दुस्तान में,भीषण यह बीमारी |
कह दुर्गेश करो नहीं अब तो रोना धोना |
तुलसी और गिलोय से,भागे दूर करोना ||

सुबह सुबह योगा करो,निर्मल जल का पान |
निसदिन साफ सफाइ का,रखो हृदय में भान ||
रखो हृदय में भान,नहीं बाहर का खाना |
छोटी सी है बात,मगर दिल से अपनाना |
कह दुर्गेश भवंडर में,इतना तू नहीं बह |
करले प्राणायाम ,मगर संजा और सुबह ||

दुर्गेश कुमार सजल
बी.ए.ऑनर्स
उच्च शिक्षा उत्कृष्टता संस्थान भोपाल
8819930876

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar