National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

सिंह (Leo) : अगस्त 2020, मासिक राशिफल

सामान्य
सिंह राशि के जातकों को इस महीने आर्थिक मोर्चे पर बहुत अच्छे लाभ मिलेंगे और आपका आर्थिक पक्ष काफी मजबूत होगा। वहीं पिताजी का स्वास्थ्य संभावित रूप से कुछ पीड़ित रह सकता है, विशेष कर महीने के पूर्वार्ध में उनके लिए स्थितियां थोड़ी चुनौतीपूर्ण रहेंगी और आपको भी स्वास्थ्य के मामले में थोड़ा सावधान रहना होगा। इस दौरान अनेक यात्राएं हो सकती हैं, जो मनोरंजन के उद्देश्य से भी होंगी, प्रेम भावना को बढ़ाने वाली भी होंगी, परिवार को एकजुट रखने वाले भी होंगी और आर्थिक लाभ प्राप्ति के उद्देश्यों से भी होंगी और आप को उनमें बेहतर नतीजे मिलेंगे। आपका पारिवारिक जीवन खुशमय रहेगा और आप जीवन में तरक्की के पथ पर आगे बढ़ेंगे।

कार्यक्षेत्र
करियर के मामले में आपको बेहतर परिणाम प्राप्त होंगे। विशेषकर महीने का उत्तरार्ध आपके लिए जबरदस्त सफलता लेकर आएगा क्योंकि उस दौरान आपका भाग्य पूरी तरह से आपके साथ खड़ा रहेगा और आपको हर क्षेत्र में सफलता मिलेगी। आप के वरिष्ठ अधिकारी भी आपके साथ नजर आएँगे और उन से आपको लाभ मिलेगा और केवल इतना ही नहीं, आपके सहकर्मी अर्थात साथ काम करने वाले व्यक्ति भी आपकी हर तरह से मदद करेंगे और आपको आगे बढ़ने से रोक पाना असंभव होगा। आपने अब तक जो भी मेहनत की थी, उसका परिणाम अब मिलेगा। छठे भाव में बैठे शनिदेव जी भी आपके कार्यक्षेत्र में आपको सफलता प्रदान करेंगे। इस प्रकार अपनी जॉब में आप बेहतर प्रदर्शन करके तरक्की पाने में सफल हो सकते हैं। वहीं दूसरी ओर यदि आप कोई बिज़नेस करते हैं तो ग्रहों की चाल आपके बिज़नेस की वृद्धि की ओर इंगित करती है, विशेषकर महीने की 16 तारीख के बाद से स्थितियां बेहतर तरीके से आपके पक्ष में नजर आएँगी और आप अपने व्यापार को और भी आगे ले जा पाने में पूरी तरह सफल रहेंगे। इस दौरान सरकारी क्षेत्र से भी लाभ के योग बनेंगे।

आर्थिक
अगर आप के आर्थिक मामलों पर नजर दौड़ायें तो महीने का पूर्वार्ध थोड़ा कमजोर रहेगा और इस दौरान किसी प्रकार की आर्थिक हानि होने के योग बनेंगे। केवल इतना ही नहीं आपको खर्चे भी काफी करने पड़ेंगे और किसी कारण बैंक लोन लेने की भी आवश्यकता पड़ सकती है। हालांकि महीने का उत्तरार्ध काफी बेहतर रहेगा। भाग्य का आपको साथ मिलेगा और आपकी आर्थिक स्थिति काफी मजबूत होगी। एक से अधिक साधनों के द्वारा आपको धन प्राप्ति के मार्ग मिलेंगे, जिससे आपकी आर्थिक स्थिति अचानक से मजबूत हो जाएगी। इस दौरान आपको महीने के उत्तरार्ध में कोई अचल संपत्ति खरीदने की भी संभावना दिखाई देती है, जो भविष्य में आपके बहुत काम आएगी और आपकी साख को आर्थिक तौर पर काफी बढ़ाएगी। व्यापारियों को इस दौरान मिले जुले परिणाम मिलेंगे और यदि वे अपने खर्चों पर ध्यान देंगे। यदि वे अपने देनदारों पर अधिक ध्यान देंगे तो आमदनी थोड़ी कम रह सकती है। बैंक से लोन अप्लाई किया है तो उसमें सफलता मिल सकती है। यदि आप अभिनय के क्षेत्र से जुड़े हैं या किसी कलात्मक क्षेत्र से जुड़े हैं, तो आपको इस समय खण्ड में आपको जबरदस्त आर्थिक लाभ मिल सकते हैं।

स्वास्थ्य
यदि इस महीने के दौरान आपके स्वास्थ्य पर नजर दौड़ाई जाए तो मान कर चलिए कि स्वास्थ्य कमजोर हो सकता है, विशेष कर महीने के पूर्वार्ध में स्थितियाँ कमजोर रहेंगी और आपको पेट अथवा पाचन तंत्र, मांसपेशियों में जकड़न, बाय व गठिया का दर्द जैसी समस्याएं या वायु रोग परेशान कर सकते हैं। हालांकि महीने के उत्तरार्ध में जब आपकी राशि का स्वामी राशि में ही प्रवेश करेगा तो आपकी चली आ रही स्वास्थ्य समस्याओं से आपको मुक्ति मिलेगी। हालांकि इसके दूसरे पक्ष के रूप में आप देखें तो आप के अष्टम भाव में मंगल विराजमान हैं और शनि छठे भाव में बैठकर उसे दृष्टि देता है, जिससे कि किसी प्रकार की वाहन दुर्घटना अथवा चोट लगने की संभावना भी संभव है। ऐसे में वाहन सावधानीपूर्वक चलाएँ तथा रक्त संबंधित अनियमितता के प्रति सतर्क और जागरूक रहें। अपना ब्लड प्रेशर लगातार चेक कराते रहें और साथ में शुगर की मात्रा भी अवश्य चेक कराएं। इससे आपको अपनी स्थिति को ज्ञात करने में आसानी और सुविधा होगी।

प्रेम व वैवाहिक
प्रेम जीवन इस माह उतार-चढ़ाव से भरा रहेगा क्योंकि एक साथ पांच ग्रहों का प्रभाव आपके पंचम भाव पर रहेगा। यानि कि स्थितियां कभी बिगड़ेंगी और कभी आपके पक्ष में रहेंगी। ऐसे में आपके प्यार की कश्ती हिचकोले खा सकती है। यहां सबसे बेहतर यही रहेगा कि अपने प्रियतम के साथ क्वालिटी टाइम बिताएं और आपके बीच अगर किसी प्रकार का कोई तनाव चल है तो उसे समय रहते ही बातचीत से निपटा लें, ताकि वह आगे बढ़कर कोई बड़ा रूप ना ले ले। ऐसा करने से आपका प्रेम जीवन ठीक-ठाक चलता रहेगा। हालांकि कई बार ऐसे रोमांटिक मौके भी आएँगे, जब आपको अपना प्यार जताने का पूरा मौका भी मिलेगा और आप उनको किसी पार्टी समारोह में भी अपने साथ लेकर शिरकत कर सकते हैं।
यदि आप शादीशुदा हैं तो स्थितियां ठीक ठाक रहेंगी। महीने का पूर्वार्ध अपेक्षाकृत बेहतर रहेगा और उसमें आपके दांपत्य जीवन में एक दूसरे को समझने के काफी मौके मिलेंगे और साथ ही साथ आप अपने जीवन साथी के साथ किसी यात्रा पर भी जा सकते हैं और उनकी सहायता से अपने जीवन में किसी प्रकार का लाभ भी हासिल कर सकते हैं। अर्थात उनका साथ आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। महीने के उत्तरार्ध में जब सूर्य का गोचर आपकी राशि में होगा, तब दांपत्य जीवन में कुछ तनाव आने की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। आपको चाहिये कि अपने मूड को हल्का रखें और व्यर्थ की बातों पर बहस ना करें क्योंकि इस तरह आप में अहम की वृद्धि हो सकती है, जो आपके रिश्ते को बिगाड़ सकती है। हालांकि कोई बड़ी समस्या दिखाई नहीं देती। इस समय में आप और आपका जीवन साथी कई प्रकार से आर्थिक संपन्नता की ओर बढ़ेंगे। संतान आज्ञाकारी रहेगी और आपकी बातें सुनेगी, समझेगी और मानेगी। हालांकि बीच-बीच में वह अपनी राह से भटक सकते हैं, इसलिए उनका साथ अवश्य दें, लेकिन अन्य बातों पर भी ध्यान दें।

पारिवारिक
यदि आपके पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो यह महीना काफी अच्छा रहने वाला है। पारिवारिक जीवन में सुख और शांति की वृद्धि होगी। सभी लोग एक दूसरे के प्रति समन्वय रखकर परिवार के माहौल को बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। कुटुंब के लोग भी एक दूसरे की सहायता करेंगे और आपको उनसे आर्थिक तौर पर किसी मदद की उम्मीद करनी चाहिए। अर्थात यदि आपको धन की आवश्यकता है तो इस मामले में भी वे आपकी सहायता कर सकते हैं। प्यार से बात करना बेहतर रहेगा। छोटे भाई बहन भी आपके लिए बेहतर कार्य करेंगे और आपके साथ रहेंगे। बड़े भाई बहनों का भी पूरा सहयोग मिलेगा ।अर्थात परिवार एकजुट रहेगा। बस पिताजी का स्वास्थ्य कुछ बिगड़ा रह सकता है, जोकि महीने के उत्तरार्ध में सुधर जाएगा। इस प्रकार आपका पारिवारिक जीवन इ महीने ठीक-ठाक चलेगा।

उपाय
सिंह राशि के जातकों को अगस्त के महीने में अमावस्या के दिन आटा, दाल, चावल, चीनी आदि का दान करना चाहिए तथा शनिवार के दिन साबुत काली उड़द, सरसों का तेल, काले तिल, काला कपड़ा और लोहे का यथासंभव दान करना चाहिए। इसके अतिरिक्त आपको भगवान शिव की विधिवत पंचोपचार पूजा करनी चाहिए और संभव हो तो रुद्राभिषेक कराना चाहिए। आपके लिए सूर्य के बीज मंत्र ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः का जाप करना सर्वाधिक उपयुक्त रहेगा। इसके अतिरिक्त आपको बृहस्पतिवार के दिन पीले चावल बना कर माता सरस्वती को भोग लगाकर ब्राह्मणों को भोजन कराना भी उत्तम फलदायी साबित होगा।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar