National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

दिल्ली में लॉकडाउन: बॉर्डर सील, बसें-दफ्तर बंद, जानें क्या-क्या बदलेगा

विजय कुमार दिवाकर
कोरोना वायरस के बढ़ते संकट को लेकर दिल्ली सरकार ने दिल्ली में लॉकडाउन का ऐलान किया है. दिल्ली में लॉकडाउन की शुरुआत 23 मार्च सुबह 6 बजे से होगी, जो कि 31 मार्च रात 12 बजे तक जारी रहेगा. कोरोना वायरस के बढ़ते संकट को लेकर दिल्ली सरकार ने दिल्ली में लॉकडाउन का ऐलान किया है. दिल्ली में लॉकडाउन की शुरुआत 23 मार्च सुबह 6 बजे से होगी, जो कि 31 मार्च रात 12 बजे तक जारी रहेगा. इस दौरान कई सेवाएं बंद रहेंगी लेकिन जरूरत की सुविधाएं लोगों के लिए खुली रहेगी. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. हम नहीं चाहते हैं कि यह संक्रमण तीसरे स्टेज में पहुंच जाए और मौत का आंकड़ा बहुत बढ़ जाए, इसलिए हम कल यानी 23 मार्च सुबह 6 बजे से 31 मार्च की रात 12 बजे तक लॉकडाउन का ऐलान करते हैं.

लॉकडाउन के दौरान क्या रहेगा बंद?
लॉकडाउन का ऐलान करते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि इस दौरान पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद रहेंगे लेकिन डीटीसी की 25 फीसदी बसें चलेगी. लॉकडाउन के दौरान कोई भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट जारी नहीं रहेगा. इसमें प्राइवेट बसें, टैक्सी, रिक्शा, ई-रिक्शा बंद रहेंगी. दिल्ली की दुकानें, बाजार, ऑफिस, गोदाम, साप्ताहिक बाजार, प्रतिष्ठान बंद रहेंगे. दिल्ली के बॉर्डर सील रहेंगे लेकिन दूसरे राज्यों से खाने-पीने के सामान जैसे सब्जी और जरूरी सामानों को लाने वाले वाहनों की अनुमति होगी. लॉकडाउन के दौरान निर्माण संबंधी काम भी दिल्ली में बंद रहेगा. इसके अलावा प्राइवेट दफ्तर बंद रहेंगे. इसके अलावा सीएम केजरीवाल ने सभी फ्लाइट्स को भी दिल्ली एयरपोर्ट पर बंद रखने के आदेश दिए हैं. दिल्ली में आने वाली इंटरनेशनल और डोमेस्टिक फ्लाइट सस्पेंड कर दी गई हैं. वहीं इंटरस्टेट बसें, ट्रेनें और मेट्रो भी लॉकडाउन के दौरान बंद रहेंगे. धार्मिक स्थल भी लॉकडाउन के तहत बंद रहेंगे.

ये सेवाएं जारी रहेंगी
सीएम केजरीवाल ने कहा कि रेस्टोरेंट से टेकअवे और होम डिलिवरी जारी रहेगी. टेलीकॉम, सब्जी, राशन, मेडिकल समेत जरूरत की दूकानें खुली रहेंगी. वहीं पांच या पांच से ज्यादा लोगों को इकट्ठे नहीं होने दिया जाएगा. आदेश का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी. कानून व्यवस्था को लागू करने वाले और मजिस्ट्रेट के सारे ऑफिस खुले रहेंगे. पुलिस का कामकाज जारी रहेगा. सभी अस्पताल, दमकल, जेल जारी रहेंगे. बिजली के दफ्तरों में काम जारी रहेगा. पानी के सप्लाई से जुड़े सभी विभागों में काम होगा. दिल्ली विधानसभा का बजट सत्र है, तो उससे जुड़े सभी विभागों में काम होगा. प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का काम जारी रहेगा. बैंकों के कैशियर और टेलर जारी रहेंगे ताकि लोग अपने पैसे निकाल सके. इसके अलावा टेलीकॉम, इंटरनेट और ब्रॉडबैंड सर्विस जारी रहेंगी

Print Friendly, PDF & Email