न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

ममता ने बंगाल के साथ जीता नंदीग्राम का भी संग्राम, 1200 वोट से दी शुभेंदु अधिकारी को मात

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में हाल ही संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती जारी है। इस विधानसभा चुनाव में बंगाल की सबसे चर्चित और हाई-प्रोफाइल सीट नंदीग्राम रही, यहां मतों की गिनती संपन्न हो चुकी है। इस सीट पर मुकाबला मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी और हाल ही में भगवा झंडा थामने वाली बीजेपी प्रत्याशी शुभेंदु अधिकारी के बीच रहा।

शुरु के की कई राउंड में पिछड़ने के बाद ममता बनर्जी को अंतिम के कुछ चरणों में बढ़त बनाने में सफलता मिली। दोनों के बीच मुकाबला काफी दिलचस्प हो चुका था। कभी ममता आगे हो रही थीं तो कभी शुभेंदु अधिकारी बढ़त बना ले रहे थे। आखिर में जीत ममता बनर्जी की ही हुई। उन्होंने अंतिम राउंड की गिनती संपन्न होने के बाद करीब 1200 मतों से जीत दर्ज की।

 

पश्चिम बंगाल में टीएमसी की जीत पर केंद्रीय रक्षा मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता राजनाथ सिंह ने ममता बनर्जी को बधाई दी है।

>> नंदाग्राम में 17वें राउंड की गिनती जारी है। इसमें ममता बनर्जी 820 वोट से आगे चल रही हैं।

नंदीग्राम में लड़ाई दिलचस्प होती जा रही है। 16 राउंड की गिनती के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, बीजेपी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी से 6 वोट से पीछे चल रही हैं।

>> ताजा जानकारी के मुताबिक, नंदीग्राम में बीजेपी कैंडिडेट शुभेंदु अधिकारी के खाते में 42,574 वोट पड़े हैं। वहीं, ममता बनर्जी 35337 मतों के साथ दूसरे नंबर पर हैं।

>> कई राउंड तक पिछड़ने के बाद अब ममता बनर्जी नंदीग्राम में शुभेंदु अधिकारी से आगे निकल गई हैं। वह फलिहाल 2700 मतों से आगे चल रही हैं।

>> छह राउंड की गिनती के बाद शुभेंदु अधिकारी 7262 मतों से आगे चल रहे हैं।

>> चुनाव आयोग के वेबसाइट के मुताबिक, नंदीग्राम में 40586 मतों की गिनती हुई है। इनमें से शुभेंदु अधिकारी के खाते में 23495 और ममता बनर्जी के खाते में 15294 वोट पड़े हैं।

>> आपको बता दें 289 सीटों के रुझान सामने आ चुके हैं। इनमें से 177 सीटों पर टीएमसी और 107 सीटों पर बीजेपी आगे चल रही है। हालांकि नंदीग्राम सीट पर ममता बनर्जी लगातार पीछे चल रही हैं।

>> नंदीग्राम में तीसरे तीसरे राउंड की गिनती संपन्न हो चुकी है। बीजेपी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी लगातार बढ़त बनाए हुए हैं। उन्होंने 8100 से अधिक मतों से ममता बनर्जी से आगे चल रहे हैं।

>> पश्चिम बंगाल की नंदीग्राम में बीजेपी उम्मीदवार 4551 मतों से आगे चल रहे हैं। ममता बनर्जी लगातार दूसरे राउंड की गिनती के बाद पीछे ही चल रही हैं। यह टीएमसी के लिए परेशान करने वाली बात हो सकती है। आपको बता दें कि बीजेपी ने यहां ‘नंदीग्राम-जय श्रीराम’ नारा दिया था।

>> नंदीग्रम सीट पर शुभेंदु अधिकारी करीब 1500 मतों से आगे चल रहे हैं।

>> आपके बता दें कि आज तक के मुताबिक, 179 सीटों के रुझान सामने आए हैं। इनमें से 91 पर टीएमसी और 87 पर बीजेपी आगे चल रही है। लेफ्ट के ख्ता में फिलहाल शून्य सीटें जाती हुई दिख रही है।

>> नंदीग्राम सीट पर कांटे की टक्कर है। शुभेंदु अधिकारी ने फिर एकबार बढ़त बना ली है।

>> शुरुआती रुझानों में ममता बनर्जी ने पहली बार बढ़त बनाई है। मतों की गिनती जारी है।

>> शुरुआती रुझानों में टीएमसी से बागी होकर बीजेपी में शामिल होने वाले नेताओं की चांदी दिख रही है। शुभेंदु अधिकारी के अलावा राजाब बनर्जी भी आगे चल रहे हैं। वहीं, ममता सरकार के कुछ मंत्री पूछे चल रहे हैं।

>> आपको बता दें कि ममता बनर्जी को नंदीग्राम में ही चोट लगी थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि जनसंपर्क अभियान के दौरान उन्हें कुछ लोगों ने धक्का दे दिया।

>> ममता बनर्जी के समर्थकों का कहना है कि शुरुआती रुझान में जो भी हो, जीत ममत बनर्जी की होगी।

>> एबीपी न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, शुरुआती रुझानों में ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट पर पीछ चल रही हैं। बीजेपी के शुभेंदु अधिकारी बढ़त बनाए हुए हैं।

>> शुरुआती रुझानों में भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच टक्कर दिख रही है।

>> पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव नतीजों के आने के पहले ही भाजपा में मुख्यमंत्री पद के चेहरे को लेकर सुगबुगाहट शुरू हो गई है। सरकार बनने की स्थिति में पार्टी के लगभग आधा दर्जन नेता ऐसे हैं जिनको प्रबल दावेदार माना जा रहा है। इनमें प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल राय, ममता बनर्जी को चुनौती दे रहे शुभेंदु अधिकारी और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के नाम सबसे ज्यादा चर्चा में है।

आठवें चरण की वोटिंग के बाद सामने आए कुछ सर्वे एजेंसी और टीवी चैनल्स के एग्जिट पोल में ममता बनर्जी के नंदीग्राम में चुनाव हारने का आकलन किया गया है। हालांकि टीएमसी के नेता लगातार नंदीग्राम और बंगाल जीतने की बात कह रहे हैं।

क्या रहा है नंदीग्राम सीट का सियासी इतिहास?
इस सीट पर 2009 के उपचुनाव से तृणमूल कांग्रेस का दबदबा रहा है। 2016 के विधानसभा चुनाव में बतौर टीएमसी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी की जीत हुई थी। उन्होंने लेफ्ट उम्मीदवार अब्दुल कबीर शेख को 81 हजार से अधिक मतों से हराया था। उन्हें ममता कैबिनेट में मंत्री भी बनाया गया था। हालांकि इस विधानसभा चुनाव से पहले अधिकारी ने बीजेपी का दामन थाम लिया। इसके बाद ममता बनर्जी ने इसी सीट से चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी।

शुभेंदु अधिकारी से पहले लेफ्ट का था कब्जा
शुभेंद्र अधिकारी से पहले नंदीग्राम सीट पर बतौर टीएमसी उम्मीदवार फिरोजा बीबी ने दो बार जीत दर्ज की। इस विधानसभा चुनाव में  ममता बनर्जी ने इसे प्रतिष्ठा की लड़ाई बना दिया। उन्होंने लगभग एक सप्ताह तक नंदीग्राम में डेरा डाले रखा। एक अप्रैल को इस सीट पर 88 प्रतिशत वोटिंग हुई थी।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar