National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

मीन (Pisces) का मासिक राशिफल : मई 2020

मीन का मासिक राशिफल / Meena Masik Rashifal in Hindi

सामान्य
मीन राशि के जातक भावुक होने के कारण कई बार ऐसे निर्णय ले लेते हैं जिनके लिए बाद में उन्हें परेशानी उठानी पड़ती है या कई बार वे किसी निर्णय तक पहुंचने में इतनी देर लगा देते हैं कि निर्णय लेने में ही समय निकल जाता है। यह बात आपको इस माह विशेष रुप से ध्यान रखनी है, क्योंकि कई ऐसे मौके आने वाले हैं, जिन से आपके जीवन की दिशा ही बदल जाए। इसलिए निर्णय अवश्य लें और समय पर लें। यदि आप निर्णय लेने में देर करेंगे तो, समस्याएं आपको ही होंगी। आपका स्वास्थ्य आमतौर पर सामान्य रहेगा। आर्थिक स्थिति बेहतर होगी तथा दांपत्य जीवन में अच्छे समाचार मिलेंगे और दोस्तों संग फोन पर खूब बतियाने का मौका मिलेगा। इस प्रकार मई का महीना आपके लिए अच्छे महीनों में से एक साबित हो सकता है। सरकारी क्षेत्र से अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है।

कार्यक्षेत्र
करियर की बात की जाए तो दशम भाव में केतु विराजमान है और छठे भाव का स्वामी सूर्य उच्च अवस्था में दूसरे भाव में सप्तम और चतुर्थ भाव के स्वामी बुध के साथ स्थित है, जिस पर द्वितीयेश और नवमेश मंगल की दृष्टि भी है। यह सभी ग्रह संबंध आपको कार्यक्षेत्र में अच्छी सफलता दिलवा सकते हैं, लेकिन केतु की स्थिति किसी वजह से कार्य क्षेत्र से आपका मन को भटका भी सकती है। ऐसे में आपके लिए बेहतर होगा कि अपने काम पर अधिक फोकस करें। वरिष्ठ अधिकारियों से आपके संबंध प्रभावित हो सकते हैं, जिसका खामियाजा आप को भुगतना पड़ सकता है। इसलिए उनसे प्रेम से बात करें और बातों को समझ कर उन से अच्छे संबंध बनाए रखें। हालांकि आपके सहकर्मी और सहयोगी आपको हर तरीके से अच्छे सहयोग की गारंटी दे सकते हैं। यदि आप व्यापार करते हैं तो, आपका व्यापार तरक्की हासिल करेगा और आपको कई तरीकों से अपने व्यापार को आगे बढ़ाने में सफलता प्राप्त होगी और केवल इतना ही नहीं आपके काम का अच्छा दाम आपको मिलेगा, जिससे आप धन संग्रह भी कर पाएंगे और दूसरी ओर आपकी मार्केट में आपकी गुडविल भी पहले से ज्यादा बेहतर हो जाएगी।

आर्थिक
आर्थिक दृष्टिकोण से देखें तो, इस महीने आपको अनेक प्रकार से लाभ मिल सकते हैं। एक ओर जहां दूसरे भाव में उपस्थित सूर्य और बुध आपको धन संबंधित लाभ दिलवाने में सहायक साबित होंगे और कुछ लोगों को विवाद के साथ भी लाभ हो सकता है या कोई विवादित प्रॉपर्टी लाभ देकर जा सकती है। ऐसे में आप अच्छी आर्थिक स्थिति की उम्मीद कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त एकादश भाव में शनि, मंगल और बृहस्पति का संयोग भी अनेक प्रकार के लाभ के अवसर आपको मुहैया कराएगा। आपको केवल जीवन में आने वाले अवसरों को समझना होगा। यदि आप व्यापार करते हैं तो, इस तरह धन जमा कर पाने में सफल होंगे और आपकी आमदनी पहले से अधिक बढ़ेगी। महीने के उत्तरार्ध में थोड़े खर्चे बढ़ेंगे, लेकिन घबराने की आवश्यकता नहीं होगी। मई का महीना आपके आर्थिक जीवन को सुख और समृद्धि से भर देगा।

स्वास्थ्य
स्वास्थ्य के मामले में आपको मिले-जुले परिणामों की प्राप्ति होगी। महीने का पूर्वार्ध ठीक-ठाक बीत सकता है, लेकिन उत्तरार्ध में आपको समस्या पेश आएँगी। विशेष कर प्रथम सप्ताह के बाद जब मंगल का गोचर आपके बारहवें भाव में होगा, तब आपको अनिद्रा तथा नेत्र संबंधी समस्याएं परेशान कर सकती हैं या किसी प्रकार की चोट आदि लग सकती है। हालांकि किसी बड़ी बीमारी की संभावना नहीं है, फिर भी अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहें और नियमित एक्सरसाइज कर स्वयं को चुस्त-दुरुस्त रखने का प्रयास करें। सूर्य का गोचर 14 तारीख को जब आप के तीसरे भाव में होगा, जहां शुक्र पहले से ही मौजूद है, ऐसे में इन दोनों के सहयोग से आपको गले में दिक्कत हो सकती है। कुछ लोगों को कान से संबंधित समस्या भी हो सकती है, लेकिन ये सब छोटी समस्याएं होंगी और इनका तुरंत समाधान प्राप्त हो जाएगा। आपको केवल स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहना होगा।

प्रेम व वैवाहिक
प्रेमी युगल के लिए यह महीना चुनौती वाला हो सकता है, क्योंकि पंचम भाव पर तीन-तीन ग्रहों की दृष्टि पड़ रही हैं, जिसमें शनि और मंगल मुख्य रूप से प्रेम जीवन में तनाव और अलगाव की स्थिति उत्पन्न कर सकते हैं। हालांकि उनके साथ बैठे देव गुरु बृहस्पति की दृष्टि अमृत के समान इस रिश्ते को बचाए रखने का प्रयास करेगी और कुछ लोगों को इसी के फलस्वरूप प्रेम विवाह की सौगात भी मिल सकती है। इस महीने आपको किसी भी वाद विवाद में नहीं पड़ना है और अपने प्रियतम को खुश रखने का प्रयास करना है। वास्तव में प्रेम की भावना ही ऐसी है कि जिस में आप स्वयं से अधिक महत्व अपने साथी को देते हैं। तीसरे भाव में वृषभ राशि का शुक्र मित्र मंडली को बढ़ाएगा और कुछ महिला मित्रों से भी आपकी खूब जमेगी।
यदि आप शादीशुदा हैं तो, जीवन साथी बेहतर तरीके से अपने कार्यों को करेगा और आपके परिवार के प्रति भी अपनी सभी जिम्मेदारियों का निर्वहन करेगा। आप दोनों के बीच आपसी सामंजस्य बेहतर बनेगा और एक दूसरे के प्रति निकटता भी बढ़ेगी। आपके रिश्ते में प्यार भी बढ़ेगा और एक दूसरे को समझने की प्रवृत्ति भी बढ़ेगी। इससे आप अच्छे दांपत्य जीवन का अनुभव करेंगे और आपको महसूस होगा कि वास्तव में जिनसे आपका विवाह हुआ है, वह आपके लिए समर्पित हैं और आपको उनसे बेहतर कोई नहीं मिल सकता। संतान की ओर से मिले जुले परिणाम मिलेंगे। उनके स्वास्थ्य को लेकर थोड़ा सा जागरूक रहें।

पारिवारिक
पारिवारिक जीवन में उच्च का राहु आपको पारिवारिक सुख से थोड़ा वंचित रख सकता है। ऐसे में या तो आप अपने काम के सिलसिले में इतने व्यस्त रहेंगे कि परिवार को समय कम दे पाएंगे या आपकी व्यस्तता इतनी अधिक बढ़ जाएगी कि आप घरवालों के समक्ष केवल इतने समय के लिए आएँगे कि जब लोगों से मिलना जुलना संभव ना हो। इससे थोड़ा सा उदास हो सकते हैं। माता-पिता का स्वास्थ्य तो ठीक रहेगा। फिर भी बड़े भाई बहनों के स्वास्थ्य के प्रति आप आशंकित हो सकते हैं। छोटे भाई बहनों से बेहतर नतीजे मिलेंगे और वे अपने अपने क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करेंगे, जिससे आपको उन पर गर्व महसूस होगा। आपके कुटुंब का मान सम्मान समाज में बढ़ेगा और मातृ पक्ष के लोगों से आपको कोई अच्छा लाभ भी इस दौरान प्राप्त हो सकता है। आपको केवल इतना करना है कि अपने व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन में सामंजस्य बनाए रखने का प्रयास करें और परिवार वालों को भी थोड़ा समय अवश्य दें।

उपाय
इस महीने उपाय के तौर पर आपको केसर का तिलक लगाना चाहिए और अपने दाहिनी कलाई पर पीले रंग का एक धागा बांध कर रखना चाहिए। इसके अतिरिक्त यदि संभव हो तो आप उत्तम गुणवत्ता का पुखराज रत्न या सुनहला रत्न धारण कर सकते हैं। यह रत्न आपको बृहस्पति वार के दिन दोपहर के समय 12 से 1:30 के मध्य तर्जनी उंगली में सोने की अंगूठी में पहनना चाहिए या फिर आप इसे गले में भी धारण कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आपको हनुमान जी की नियमित उपासना करनी चाहिए और चमेली के तेल का दीपक जलाकर शनिवार और मंगलवार या किसी एक दिन सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar