National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

मूवी रिव्यू : भूत (पार्ट वन – द हॉन्टेड शिप)

Bhoot Part One: The Haunted Ship Review: हॉरर एक ऐसा जॉनर है जिसमें अभी बहुत संभावनाएं तलाशी जानी बाकी हैं. अचानक किसी मूवमेंट के साथ तेज साउंड का आना, शीशे में अचानक किसी साये का प्रकट होना और कमरे में रखे सामान का अपने आप हिलने लगना जैसी चीजें दर्शक पिछले काफी वक्त से देख रहे हैं. धर्मा प्रोडक्शन ने पहली बार हॉरर में कदम रखा है और साथ ही विक्की कौशल की भी पहली हॉरर फिल्म भूत आ चुकी है. ऐसे में जाहिर है कि पब्लिक की उम्मीदों पर खरे उतरना एक बड़ी चुनौती थी. विक्की कौशल और फिल्म के मेकर्स इस चुनौती को किस हद तक पूरा कर पाए हैं? चलिए जानते हैं.

सच्ची घटना पर आधारित ये फिल्म हकीकत का दामन थाम कर उड़ान भरती है और आपको कल्पनाओं के उस आसमान में ले जाती है जहां आपको सब कुछ हकीकत ही लगने लगता है. एक हॉरर फिल्म के सामने दो सबसे बड़ी चुनौतियां होती हैं. पहली ये कि फिल्म आपको डरा पाए और दूसरी ये कि आपको ये बोर या बोझिल नहीं लगे. विक्की कौशल की फिल्म में ये दोनों ही पहलू मौजूद हैं.

फिल्म : भूत : द हॉन्टेड शिप (पार्ट-1)
कलाकार : विक्की कौशल, भूमि पेडनेकर, आशुतोष राणा
निर्देशक : भानु प्रताप सिंह
मूवी टाइप : हॉरर
अवधि : 2 घंटा 10 मिनट

क्या है फिल्म की कहानी?
एक हादसे में अपनी छोटी बेटी और पत्नी (भूमि पेडनेकर) को खो चुका पृथ्वी (विक्की कौशल) अब मुंबई में अकेला रहता है और शिपिंग ऑफिसर की नौकरी करता है. पृथ्वी खुद को अपनी पत्नी और बेटी की मौत का जिम्मेदार मानता है इसलिए उसमें इस बात का गिल्ट हमेशा बना हुआ है. वो हर वो काम करता है जिससे वो किसी बच्ची या किसी औरत की मदद कर सकता है. पृथ्वी के दिमाग पर ये ट्रॉमा इस हद तक है कि उसे अपनी पत्नी और बेटी दिखाई देते हैं. वह डॉक्टर से अपने हैलोसिनेशन्स का इलाज तो करवा रहा है लेकिन दवाइयां नहीं लेता ताकि उसकी पत्नी और उसकी बेटी उसे हमेशा ऐसे ही नजर आते रहें. पृथ्वी का दोस्त रियाज उसे हमेशा ये सब करने के लिए टोकता रहता है लेकिन पृथ्वी नहीं मानता. सब कुछ ठीक चल रहा है और एक दिन अचानक समंदर किनारे एक सुनसान जहाज सी-बर्ड आकर खड़ा हो जाता है.

सी-बर्ड के बारे में तमाम किस्से हैं. इस जहाज के अचानक समंदर किनारे यूं आ जाने से मुंबई की जनता में खलबली है. लिहाजा पृथ्वी की कंपनी पर इस जहाज को वहां से हटाने का दबाव बढ़ जाता है. जिम्मेदारी पृथ्वी पर आती है और वह जब जहाज का मुआइना करने जाता है तो उसके साथ तमाम अजीब चीजें होना शुरू हो जाती हैं. पृथ्वी जब थोड़ी जांच पड़ताल करता है तो उसके सामने आती है रोंगटे खड़े कर देने वाली एक पहेली जिसे वो सुलझाने में लग जाता है.

पहेली के सुलझने के साथ-साथ सुलझना शुरू होती है वो कहानी जो आपको बांध कर रखती है. कहा जा सकता है कि कॉन्सेप्ट नया है. फिल्म के बीच-बीच में छोटे-छोटे जोक्स हैं जो कहानी को बहुत बोझिल होने से रोकते हैं. सी-बर्ड का वो सीक्रेट क्या है जो लोगों की जान ले रहा है? क्या विक्की कौशल का इस जहाज से कोई पुराना कनेक्शन है? क्या इस हॉन्टेड शिप का भूत विक्की कौशल की जान ले लेता है या उन्हें जाने देता है? यही फिल्म की कहानी है.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar