न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

अधिकारी ई-ऑफिस में न बरतें ढिलाई,फाइलों का ई- ऑफिस से ही हो मूवमेंट: प्रदीप कुमार

सिरसा। उपायुक्त प्रदीप कुमार ने कहा कि ई-ऑफिस सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना है। इसके क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की ढिलाई व लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि कार्यालय में फाइलों का मूवमेंट ई-ऑफिस से ही हो और कोई भी फाइल बिना ई-आॅफिस के स्वीकार न की जाए। उपायुक्त बुधवार को लघुसचिवालय स्थित सभागार में विभिन्न योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान उपायुक्त ने ई-ऑफिस, सीएम विंडो, सोशल मीडिया, सरल पोर्टल, पीएनडीटी एक्त, पोक्सो एक्ट, प्ले स्कूल आदि योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बैठक में सीटीएम गौरव गुप्ता, सीएमजीजीए सुकन्या जर्नादन, जिला शिक्षा अधिकारी संत कुमार सहित संबंधित विभागों के विभागाध्यक्ष व अन्य अधिकारी उपस्थित थे। उपायुक्त ने सबसे पहले ई-ऑफिस प्रणाली की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को सख्त हिदायत देते हुए इस दिशा में गंभीरता से कार्य करने को कहा। इस दौरान ई-आॅफिस में सराहनीय कार्य करने वाले छ: विभागों के विभागाध्यक्षों को सम्मानित भी किया। सम्मानित होने वालों में पशुपालन विभाग, मत्स्य विभाग, पीडब्ल्यूडी बी एंड आर, आयुष विभाग, एसडीएम ऐलनाबाद व सिविल अस्पताल शामिल थे। उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को सम्मानित करने के दौरान उपस्थित दूसरे विभागाध्यक्षों को इनसे प्रेरणा लेते हुए ई-आॅफिस कार्य में तेजी लाने को कहा। उन्होंने कहा कि ई-आॅफिस से कार्य करना बहुत ही सरल है, जिससे कम समय में अधिक फाइलों का निपटान किया जा सकता है। ई-आॅफिस से संबंधित यदि कोई भी प्रशिक्षण व तकनीकी दिक्कत आती है, उस बारे अवगत करवाते हुए इसका समाधान करवाएं, ताकि इस दिशा में बेहतर कार्य हो। उन्होंने कहा कि ई-आॅफिस कार्य की हर सप्ताह समीक्षा होगी। इसके लिए सीटीएम की अध्यक्षता में हर वीरवार को बैठक होगी। उपायुक्त ने सीएम विंडो के संबंध में अधिकारियों को निर्देश दिए कि हर रोज संबंधित अधिकारी पोर्टल को चैक करना सुनिश्चित करें और कोई पैंडेंसी सीएम विंडों पर न रहे। पोर्टल पर आने वाली शिकायतों को समयावधि में प्राथमिकता के साथ निपटान करें। एक विभाग की अधिक पैंडेंसी से पूरे जिला की रैंकिंग पर असर पड़ता है, इसलिए सभी विभाग सीएम विंडों पर शिकायतों को लंबित न रहने दें। उन्होंने कहा कि सीएम विंडों पोर्टल की मुख्यमंत्री स्वयं समीक्षा करते हैं, इसलिए इस कार्य को प्राथमिकता से लेते हुए गंभीरतापूर्वक कार्य करें।
उन्होंने पीएनडीटी एक्ट की समीक्षा करते हुए कहा कि सिरसा जिला लिंगानुपात में नम्बर वन पर है। हमें इस पोजिशन को बरकरार रखना है और इसके लिए लगातार कार्य करते रहना होगा। उन्होंने कहा कि जिस भी गांव या क्षेत्र में लिंगानुपात के सुधार की आवश्यकता है, वहां पर विशेष फोक्स करते हुए कार्य करें। संबंधित विभाग आपसी तालमेल के साथ कार्य करते हुए लिंग जांच व कन्या भ्रूण हत्या करने वालों व ऐसे जघन्य कार्यों में संलिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाने संबंध में कार्रवाई करें। बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान के तहत सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में लोगों को जागरूक करें। उपायुक्त ने कहा कि सभी आंगनवाड़ी केंद्रों को प्ले स्कूल में तब्दील किया जाएगा, जहां पर प्ले स्कूल की तर्ज पर खेल-खेल में बच्चों को शिक्षा दी जाएगी। उन्होंने मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी को निर्देश दिए कि वे इस कार्य की समीक्षा करते हुए कार्य की प्रगति की रिपोर्ट प्रस्तुत करें। उपायुक्त ने इसके अलावा विभिन्न योजनाओं की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को इनके क्रियान्वयन में तेजी लाने बारे दिशा-निर्देश दिए।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar