न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

फिल्मकार मृणाल सेन की प्रथम पुण्यतिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित किये

भारतीय सिनेमा को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने वाले फिल्मकार मृणाल सेन को आज उनकी प्रथम पुण्यतिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित

विजय न्यूज़ ब्यूरो
नई दिल्ली। अखिल भारतीय स्वतंत्र पत्रकार एवं लेखक संघ एवं नेशनल मीडिया नेटवर्क के राष्ट्रीय महामंत्री दयानंद वत्स की अध्यक्षता में आज संघ के मुख्यालय बरवाला में आज सुप्रसिद्व फिल्म निर्माता और निर्देशक मृणाल सेन की प्रथम पुण्यतिथि सादगी और श्रद्धा पूर्वक मनाई गई। श्री वत्स ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें उनके करोड़ों प्रशंसकों की ओर से भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। अपने संबोधन में स्वर्गीय मृणाल सेन को याद करते हुए श्री दयानंद वत्स ने कहा कि उन्होने अपने साढे चार दशक के फिल्म निर्माण कैरियर में मध्यमवर्गीय समाज की समस्याओं पर यथार्थपरक फिल्में बनाकर समानांतर सिनेमा को नई दिशा प्रदान की। वत्स ने कहा कि मृणाल सेन ने भारतीय सिनेमा को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाई। फिल्मकार मृणाल सेन ने 18 राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार अर्जित किए। दादा साहब फालके अवार्ड से नवाजे गए। मिथुन चक्रवर्ती को उनकी पहली फिल्म मृग्या के लिए जो राष्ट्रीय पुरस्कार मिला उसे मृणाल सेन ने ही बनाया था। भुवन सोमे बनाने वाले मृणाल सेन इकलौते ऐसे भारतीय फिल्मकार थे जिन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर के सभी फिल्म समारोहों में सम्मानित किया गया। मास्को मेंं उन्हें ऑर्डर ऑफ फ्रेंडशिप से राष्ट्रपति पुतिन ने सम्मानित किया। उन्हें फिल्मफेयर से भी नवाजा गया था। वत्स ने कहा कि महान फिल्मकार सत्यजीत रे और ऋत्विक घटक के बाद मृणाल सेन ही समानांतर सिनेमा के आखिरी स्तंभ थे। मृणाल सेन यथार्थ परक फिल्मों का स्वर्णिम युग लेकर आए थे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar