National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

मजदूर तिलकराम से PM मोदी ने पूछा- मुझे क्या दोगे? जवाब आया- आप पूरी जिंदगी प्रधानमंत्री रहें

लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा बनाई गई आत्म निर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान योजना लॉन्च की. इसके तहत यूपी सरकार अन्य राज्यों से लौटे प्रवासी कामगारों समेत कई युवाओं को अलग अलग क्षेत्र में काम देगी. पीएम मोदी ने वर्चुअल कॉन्फ्रेसिंग के तहत इसकी शुरुआत करते हुये कई श्रमिकों से बातचीत की और उनके अनुभव सुने. इस दौरान बहराइच के एक कामगार ने पीएम से कहा कि आप पूरी जिंदगी पीएम बने रहें.

  • एक करोड़ से ज्यादा स्थानीय व प्रवासी श्रमिकों को मिलेगा रोजगार

इस अभियान ते तहत एक करोड़ से ज्यादा स्थानीय व प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराए जाएंगे. सीएम योगी की इस महतावाकांक्षी योजना को उनका ड्रीम प्रोजेक्ट माना जा रहा है. इसके तहत मुख्यमंत्री ने प्रवासी कामगारों व राज्य के एक करोड़ लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने का खाका तैयार किया है.
आपको बता दें कि पीएम मोदी ने योजना का शुभारंभ करते हुये कई कामगारों और युवाओं से बात की. इन सभी को रोजगार अभियान के तहत काम दिया गया है. इस बातचीत के क्रम में जब पीएम मोदी ने बहराइच के तिलकराम से चर्चा की तो एक दिलचस्प वाकया सामने आया. पीएम मोदी ने तिलकराम से कहा कि आपके खेत के पास बहुत बड़ा मकान बन रहा है. इस पर किसानी करने वाले तिलकराम ने कहा कि ये आपका ही दिया हुआ है. किसान ने पूरी बात बताते हुये कहा कि सरकार की आवास योजना से ही यह मकान हमे मिला. तिलकराम ने कहा कि हम पहले झोपड़ी में रहते थे, अब हमारा मकान बन रहा है., सभी बहुत खुश हैं.

  • आप पूरी जिंदगी पीएम बने रहें’

पीएम मे बात करते हुये कहा कि आपको मकान मिल गया है, आप मुझे क्या दोगे, इस पर किसान तिलकराम ने कहा कि आप पूरी जिंदगी पीएम बने रहें. यही नहीं प्रधानमंत्री मोदी ने किसान से कहा कि आप हर साल मुझे पत्र लिखते रहें और परिवार और बच्चों की पढ़ाई के बारे में सूचना देते रहें.

  • रोजगार पाकर खुश हुये कुर्बान अली

पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सिद्धार्थ नगर के प्रवासी श्रमिक कुर्बान अली से बात की. कुर्बान हाल ही में मुंबई से अपने घर वापस लौटे हैं. मुंबई में कुर्बान बढ़ई का काम करते थे. पीएम मोदी से उन्होंने गांव में चल रहे रोजगार को लेकर सरकार के प्रयासों की बात साझा की. उन्होंने बताया कि उन्हें यहां राजमिस्त्री का काम मिला है. यही नहीं उन्हें प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र भी दिया गया है.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar