National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

नया टैक्स प्लेटफॉर्म लॉन्च कर बोले पीएम मोदी- नई व्यवस्था सीमलेस, फेसलेस और पेनलेस

नई दिल्ली. आज से ईमानदारी से टैक्स चुकाने वालों के लिए 21वीं सदी के टैक्स सिस्टम की नई व्यवस्था का शुरुआत हो गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन-ऑनरिंग द ऑनेस्ट’ नामक एक मंच का लोकार्पण किया है. इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा, “आयकर विभाग को अब टैक्सपेयर के गौरव का, संवेदनशीलता के साथ ध्यान रखना होगा. अब टैक्सपेयर की बात पर विश्वास करना होगा, डिपार्टमेंट उसको बिना किसी आधार के ही शक की नजर से नहीं देख सकता.” उन्होंने कहा कि नई व्यवस्था सीमलेस, फेसलेस और पेनलेस है.
पीएम ने कहा, ‘6-7 साल में इनकम टैक्स रिटर्न भरने वालों की संख्या में करीब ढाई करोड़ की बढ़ोतरी हुई है. लेकिन ये भी सही है कि 130 करोड़ के देश में ये अभी भी बहुत कम है. इतने बड़े देश में सिर्फ डेढ़ करोड़ साथी ही इनकम टैक्स जमा करते हैं.’

ईमानदार का सम्मान
पीएम मोदी ने कहा, ‘देश का ईमानदार टैक्सपेयर राष्ट्रनिर्माण में बहुत बड़ी भूमिका निभाता है. जब देश के ईमानदार टैक्सपेयर का जीवन आसान बनता है, वो आगे बढ़ता है, तो देश का भी विकास होता है, देश भी आगे बढ़ता है. अब देश में माहौल बनता जा रहा है कि कर्तव्य भाव को सर्वोपरि रखते हुए ही सारे काम करें.’
प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ‘एक दौर था जब हमारे यहां रिफॉर्म्स की बहुत बातें होती थीं. कभी मजबूरी में कुछ फैसले लिए जाते थे, कभी दबाव में कुछ फैसले हो जाते थे, तो उन्हें रिफॉर्म्स कह दिया जाता था. इस कारण इच्छित परिणाम नहीं मिलते थे. अब ये सोच और अप्रोच, दोनों बदल गई है.’

टैक्स सिस्टम की नई व्यवस्था की जरूरत क्यों
पीएम मोदी ने कहा, ‘भारत के टैक्स सिस्टम में मौलिक और संरचनात्मक सुधार की जरूरत इसलिए थी क्योंकि हमारा आज का ये सिस्टम गुलामी के कालखंड में बना और फिर धीरे-धीरे विकसित हुआ है. आजादी के बाद इसमें यहां वहां थोड़े बहुत परिवर्तन किए गए, लेकिन ज्यादातर सिस्टम का स्वरूप वही रहा.’

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar