National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

प्रयागराज मे महिलाओं का धरना जारी,साधु संतों का भी समर्थन

विजय न्यूज़ ब्यूरो

प्रयागराज। माथे पर तिरंगा पट्टी और हाथों में भारत की शान तिरंगा झण्डा लेकर महिलाओं ने शहर के भीतरी इलाकों मे जुलूस निकाला जिसमे नो एनआरसी और नो एनपीआर नो सीएए की आवाज़ें बुलन्द की।प्रशासन की चेतावनी ,सर्द रात और ठंडी हवा भी आंलोलनकारी महिलाओं के हौसलों को पस्त नही कर सकी।इनके हौसले बुलंद है ,इसी का नतीजा है कि अब राजनीतिक दलों और दूसरे संगठनों के साथ –साथ साघू संत भी रोशनबाग के मंसूर पार्क पहुंच कर महिलाओं के सत्याग्रह को अपना समर्थन दे रहे हैं।संगम की रेती पर सजे माघ मेले में कल्पवास कर रहे मध्यप्रदेश उदासीन अखाड़े के संतोषानंद महाराज,सुधाकराचार्य, श्याम सुन्दर महाराज, ब्रहमाचारी महाराज के साथ अन्य साधू सन्तों ने मंसूर अली पार्क पहुंच कर एनआरसी,एनपीआर, और सीएए का विरोध किया वहीं ।संतोषानंद महाराज ने कहा हम आप के साथ हैं आप की इस लड़ाई को हम कंधे से कंधा मिला कर खड़े रहेंगे। प्रदर्शन में पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री रामवृक्ष यादव भी समर्थन देने पहुँचे।धरनारत महिलाओं को समर्थन देने और एनपीआर, एनआरसी और सीएए के विरोध में तमाम वामपंथी संगठनों के लोगों के अलावा समाजवादी पार्टी,कांग्रेस,ए आई एम आई एम,आम आदमी पार्टी दूसरे दलों के प्रतिनिधि भी लगातार प्रदर्शन को समर्थन देने पहुंच रहे हैं।उधर मुस्लिम महिलाओं ने दरियाबाद से लेकर मंसूर अली पार्क तक पैदल तिरंगा यात्रा भी निकाल कर अपने हक की आवाज बुलंद की।बिना किसी संगठन व मजबूत नेतृत्व के बड़ी संख्या में बुरक़ापोश महिलाओं बच्चों व युवतियों ने नो एनसीआर नो एनपीआर और नो सीएए व हिन्दुस्तान ज़िन्दाबाद,इन्क़ेलाब ज़िन्दाबाद जैसे स्लोगन लिखी तख्तियाँ तथा माथे पर तिरंगे झण्डे की पट्टी बाँधकर केन्द्र सरकार के काले क़ानून को वापिस लेने तक आन्दोलन को अनवरत जारी रखने की बात कही।मंसूर अली पार्क मे चँद युवतियों द्बारा शुरु किया गया विरोध प्रदर्शन का स्वरुप रोज़ नए तेवर के साथ आगे बढ़ रहा है।प्रतिदिन मंसूर अली पार्क में महिलाएँ जुलूस निकाल कर एन आर सी एन पी आर के खिलाफ आवाज़ बुलन्द कर रही हैं।दरियाबाद के सैय्यदवाड़ा,अब्बास कालोनी से जहाँ महिलाओं ने विरोध जुलूस निकाला वहीं अकबरपुर,नेहालपुर से भी बड़ी संख्या में महिलाओं ने जुलूस निकाल कर एन आर सी वापिस लो एन पी आर वापिस लो की तख्तियाँ ले कर विरोध करते हुए मंसूर अली पार्क में चल रहे धरने मे शामिल हुईं। प्रोटेस्ट की शुरुआत करने वाली सायरा प्रदर्शनकारी महिलाएँ में एक आईडीयल के रुप में देखी जा रही हैं। यही वजहा है की नेहा यादव ने एक नया नारा देते हुए कहा की प्रशासन जिस्से हारा है सायरा है ,वह सायरा है।महिलाओं के आंदोलन को अपना समर्थन देने उत्तर प्रदेश विधान परिषद सदस्य वासुदेव यादव भी पहुंचें। विधान परिषद सदस्य बासुदेव यादव ने कहा एन आर पी एन आर सी से सिर्फ मुस्लामान ही नहीं प्रभावित होगा बल्कि दलित पिछड़ा भूमिहीन और साधू सन्त और महात्मा जिनके पास न तो कोई घर होता है और न कोई काग़ज़ात ऐसे सभी लोग इस काले क़ानून की ज़द में आएंगे।उन्होने इस आन्दोलन में दलितों पिछड़ो से आहवाहन किया की वह इन परदानशीन महिलाओं के साथ कंधे से कंधा मिला कर आन्दोलन का भरपूर हिस्सा बनें।उनहोने कहा हम प्रण लेते हैं की किसी क़ीमत पर सरकारी दस्तावेज़ जो इस क़ानून को लेकर आएगा उस पर हस्ताक्षर नहीं करेंगे और उसे बैरंग वापिस भेजने का काम करेंगे।उनहोने आनदोलनरत लोगों पर एफ आई आर दर्ज करने पर प्रशासन को चेताया की अभी कोई जेल ऐसी नहीं जो हम लोगों को रख सके।

बासूदेव यादव ने कहा हमने पुलिस प्रशासन के आलाधिकारीयों को लिखित रुप से यह कह दिया है की किसी भी आन्दोलनकारियों पर फर्जी एफ आई आर न दर्ज हो और न ही शान्तिपूर्वक धरना दे रहे लोगों को परेशान करने की चेष्टा हो। निर्वतमान महानगर अध्यक्ष सै०इफ्तेखार हुसैन ने कहा हम सब समाजवादी पार्टी के लोग लगातार आन्दोलन मे लगे हैं और हमारी लड़ाई भाजपा से नहीं इस काले क़ानून से है जिसको हर्गिज़ लागू नहीं होने देंगे।प्रदर्शन के दौरान सै०मो०अस्करी,अब्बास नक़वी,नेहा यादव,रिचा सिंह,सभासद फजल खान और अब्दुल समद सहित तमाम लोग बराबर किसी न किसी रूप मे अपना सहयोग दे रहें हैं। धरना स्थल पर विरोध में जमा महिलाएँ वहीं पर मुसल्ला बिछा कर पाँच वक़त की नमाज़ भी अदा कर रही हैं।छोटे छोटे बच्चे भी अपने घरों को छोड़ कर महिलाओं की गोद मे हैं, तो वहीं पुरे हिजाब में मुस्लिम युवतियाँ भी धरने में शामिल हो कर तरहा तरहा के स्लोगन लिखने और और प्रोटेस्ट को और व्यापक बनाने मे लगी हैं।

शाहिद नकवी

Print Friendly, PDF & Email
Tags:
Translate »