National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

धनु (Sagittarius) का मासिक राशिफल : मई 2020

धनु का मासिक राशिफल / Dhanu Masik Rashifal in Hindi


सामान्य
धनु राशि के जातक होने के कारण लग्न में केतु की उपस्थिति आपको थोड़ा रहस्यमयी बनाएगी और आपको शक करने की आदत हो सकती है, जो कि आपके लिए खराब है, इससे बचना चाहिए। इसके अतिरिक्त आप साढ़ेसाती के अंतिम चरण में होंगे, जिससे मानसिक तनाव और पारिवारिक समस्याएं सामने आ सकती हैं, लेकिन इन सब से दूर रहने का प्रयास करें और जहां कहीं भी अधिक बहस बाजी दिखे, वहां से साइड हो जाएं। आपकी अध्यात्म, धर्म, दर्शन और चिंतन के प्रति समझ बढ़ेगी और इस क्षेत्र में आगे बढ़ने का प्रयास करेंगे। आपको भगवान विष्णु की उपासना करनी चाहिए और उनसे अपने मन को शांति प्रदान करने की प्रार्थना करनी चाहिए। हालांकि आर्थिक मोर्चे पर यह महीना अच्छा रहेगा। दांपत्य जीवन थोड़ा तनाव से भरा रह सकता है। इस महीने आपकी यात्राओं में कुछ कमी आ सकती है। आपको कुछ समय के लिए ध्यान करना चाहिए और अपनी सोच को नई दिशा देने का प्रयास करना चाहिए, क्योंकि कई ऐसे काम हैं, जो आपकी सोच की वजह से रुके हुए हैं। उन्हें पूरा करें और तरक्की के पथ पर आगे बढ़ें।

कार्यक्षेत्र
करियर के नज़रिए से देखने पर प्रतीत होता है कि महीने की शुरुआत में आपकी इच्छा नौकरी बदलने को लेकर हो सकती है और इसमें आपको सफलता भी मिल सकती है। 9 मई के बाद आपकी नौकरी में काफी अच्छा समय आएगा और इस दौरान आपके कार्य की प्रशंसा भी होगी तथा आपको अच्छा पद मिल सकता है तथा आपको अपने वेतन में वृद्धि भी मिल सकती है, लेकिन इसी दौरान आपके विरोधी आप पर हावी भी हो सकते हैं। इसलिए ध्यान रखें, यदि आप व्यापार करते हैं तो पार्टनरशिप के बिज़नेस में काफी अच्छा लाभ अर्जित कर पाएंगे। विशेष तौर पर महीने का पूर्वार्ध आपको काफी बेहतर परिणाम देकर जाएगा और आपके कुछ बड़े रसूख वाले लोगों से भी संपर्क जुड़ेंगे, जिन से मुलाकात के बाद भविष्य में आपके व्यापार को अच्छा खासा लाभ प्राप्त होगा। यदि आप बिना पार्टनरशिप के स्वयं ही कोई बिज़नेस करते हैं तो, अपनी योजनाओं को लोगों को अच्छे से समझाएं, ताकि उन तक आपकी बात पहुंच सके, क्योंकि समस्या यह होगी कि आपकी बातें लोगों तक पहुंचने में दिक्कत आएगी, जिसकी वजह से आपको मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। आप चाहें तो इसके लिए किसी विषय विशेषज्ञ की सलाह भी ले सकते हैं। हालांकि आमतौर पर मई का महीना आपके लिए अच्छा रहेगा।

आर्थिक
आर्थिक दृष्टिकोण से देखने पर आपके लिए महीना काफी भाग्यशाली साबित हो सकता है और चाहे आप व्यापार करते हों अथवा कोई नौकरी, आपको इस महीने काफी अच्छा लाभ होगा। दूसरे भाव में तीन ग्रहों की युति होने से आपको अनेक प्रकार के अच्छे परिणाम मिलेंगे और इस दौरान आप धन संचित कर पाने में भी सफल होंगे। इसके अतिरिक्त नवम भाव का स्वामी सूर्य महीने के पूर्वार्ध में पंचम भाव में बैठकर एकादश भाव से संबंध बनाएगा और आपके लिए विभिन्न प्रकार के धन लाभ के मार्ग प्रशस्त करेगा। आपको सरकारी क्षेत्र से भी लाभ की प्राप्ति हो सकती है। इसके अतिरिक्त यदि आप खुद ही सरकारी कर्मचारी हैं तो, आपको इस दौरान कोई अच्छी सौगात मिल सकती है, जिसकी वजह से आपका मन बहुत प्रसन्न रहेगा और आर्थिक स्थिति काफी मजबूत होगी। इस दौरान आपके पिताजी को भी अपने कार्य क्षेत्र में कोई अच्छा पद प्राप्त हो सकता है, जिससे आपको भी लाभ होगा।

स्वास्थ्य
स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से देखें तो, आपके लिए यह महीना सामान्य रहेगा, लेकिन आपको अपने भोजन पर विशेष रूप से ध्यान देना होगा, क्योंकि संभावना है कि उल्टे सीधे भोजन के चलते आपको पेट खराब होने से जूझना पड़े। इसके अतिरिक्त गले में टॉन्सिल की समस्या अथवा आंखों में पीड़ा हो सकती है। इसके अतिरिक्त आपको इस दौरान अपने दाँतों की साफ-सफाई पर विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए, क्योंकि उन में कीड़ा लगने की समस्या सामने आ सकती है अथवा किसी वजह से दांतों में टूटन हो सकती है। इसके अतिरिक्त विशेष रूप से आपको मानसिक तनाव से गुजरना पड़ सकता है और अधिक तले भुने भोजन के कारण अपच की समस्या या एसिडिटी भी हो सकती है। हालांकि कोई बड़ी समस्या यदि आपको अभी तक नहीं हुई है तो, फिलहाल उसके होने की कोई संभावना भी नहीं है।

प्रेम व वैवाहिक
प्रेमी युगल के लिए पंचम भाव में उपस्थित सूर्य अधिक अनुकूल नहीं है, क्योंकि इससे आपके प्रियतम के स्वभाव में उग्रता बढ़ सकती है और अहम की लड़ाई होने की संभावना बनेगी, जिसके चलते आपकी बातों में एक दूसरे के प्रति गर्माहट देखने को मिलेगी और संभवतः आप प्रियतम आपको अपनी अकड़ दिखा सकता है, जिससे आपको काफी बुरा लगेगा और आपकी भावनाएं आहत हो सकती हैं। ऐसे में प्रेम संबंधों में मधुरता बनाए रखने के लिए आपको महीने के उत्तरार्ध की प्रतीक्षा करनी चाहिए, क्योंकि उसके बाद सूर्य वृषभ राशि में जाएगा और पंचम भाव सूर्य के प्रभाव से कुछ हद तक मुक्त होगा। हालांकि मंगल की दृष्टि भी पंचम भाव पर होगी, जिससे आप प्यार में थोड़े अधीर रहेंगे और यह अधीरता आपसे कुछ ऐसी बातें कहलवा सकती है, जो आपके प्रियतम को पसंद ना आए। ऐसे में एक दूसरे के प्रति अपशब्दों का इस्तेमाल अथवा अलगाव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। इससे बचने के लिए आपको अपनी संयमित भाषा का प्रयोग करना होगा और यदि किसी वजह से आपके प्रियतम आपसे कुछ उल्टा सीधा कह भी देते हैं, तो भी आप को नजरअंदाज करना होगा, तभी आप अच्छा प्रेम जीवन बिता पाएंगे। महीने के दूसरे हफ्ते से स्थितियां थोड़ी अनुकूलता की ओर बढ़ेंगी। आपकी मित्र मंडली में भी इजाफा हो सकता है। कोई व्यक्ति आपके बेहद खास भी बन सकते हैं।
यदि आप शादीशुदा हैं तो, सप्तम भाव में बैठे हुए राहु से सावधान रहें, क्योंकि यह राहु आपके रिश्ते में गलतफहमियों का दौर लेकर आ सकता है और इस दौरान आपके दूसरे भाव में जो ग्रहों का गठजोड़ है, उसकी वजह से आपके जीवन साथी का स्वास्थ्य भी प्रभावित हो सकता है और उसकी मुख्य वजह होगी आपके जीवनसाथी का असंतुलित और अव्यवहारिक खान पान, जिसकी वजह से उन्हें रोग लग सकते हैं। इस दौरान आपको अत्यधिक भोग की आदत से बचना होगा, तभी आप और आपका जीवन साथी सुखद दांपत्य जीवन का आनंद ले पाएंगे। आपको अपने जीवन साथी के स्वास्थ्य के संबंध में कुछ खर्च भी करना होगा।

पारिवारिक
यदि आपके पारिवारिक जीवन पर नजर दौड़ाई जाए तो मई के दौरान आपके कुटुंब में तीखी नोक झोंक और बहस का सिलसिला जारी रह सकता है। हालांकि इसमें 4 तारीख के बाद कमी आएगी, क्योंकि मंगल का गोचर बदल जाएगा। इस दौरान आप काफी स्पष्ट और ब्लंट बोलने वाले होंगे, जिसकी वजह से आपकी बात लोगों को चुभ सकती है, भले ही वह बात सही हो। इसलिए भाषा पर संयम आवश्यक होगा। हालांकि माता-पिता का स्वास्थ्य अनुकूल रहने से आपके चिंताएं थोड़ी कम होंगी और संतान की ओर से भी आपको अच्छे समाचारों की प्राप्ति होगी। भाई बहन आपकी मदद करेंगे, जिससे आपका मन खिला-खिला रहेगा और इस प्रकार मई के महीने में पारिवारिक जीवन अच्छा रहने की संभावना होगी। मानसिक तनाव को खुद पर हावी होने से बचाएँ अन्यथा आपके रिश्तों पर इसका असर पड़ सकता है।

उपाय
इस महीने उपाय के तौर पर आपको भैरव बाबा की उपासना करनी चाहिए और उसके लिए तिल के तेल का दीपक जलाकर भैरव चालीसा का पाठ करना उत्तम रहेगा।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar