National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

व्यंग : एजेंडा वही जो वोट दिलाए

वे पार्टी मुख्यालय में गए । उन्होंने गाड़ी को सीधे फव्वारे के नीचे स्नान करने के लिए खड़ा कर दिया । बाहर तेज गर्मी थी । अंदर एयर कंडीशनर में वह कुर्सी आसन में लीन भए । एयर कंडीशनर में कुर्सी आसन में डूब जाना उनका कर्तव्य है । यही उनका तप है ! ध्यान है ! पार्टी के लिए यह उनका त्याग है कि जनता की हाय हाय के बाद भी वैसे इस तरीके से एयर कंडीशनरात्मा बनकर जीते हैं । वे सच्चे जननायक हैं । वे जब एयर कंडीशन में धुत पड़ गए तो घनघोर धुतावस्था में ही प्रवचन देने लगे । उन्होंने सर्वप्रथम उस झोले को प्रणाम किया ; जो इस समय पार्टी मुख्यालय की एक खूंटी पर टंगा था । वे उसे एजेंडे का झोला कहते हैं । पार्टी मुख्यालय की इसी खूंटी पर कई रंग – बिरंगे एजेंडे बरसों से टंगे हैं । इन एजेंडों की खूब पूजा की जाती है ताकि भक्त कुर्सीपति बनकर एयर कंडीशनरात्मा जैसा परमसुख भोगे । एयर कंडीशनात्मा ने अपना 33% मुंह खोला और चैनलों की ओर 45 डिग्री की दिशा में प्रवचन झाड़ा ।

उन्होंने कहा – ‘बोलिए पार्टी के एजेंडे की जय ! पार्टी के हाई कमान की जय ! हे पार्टी के प्यारे चमचों ! चमचियों ! डेकचियों और प्यारी – प्यारी सी कटोरियों ! पार्टी ने विचार मंथन ने एक एजेंडे को उद्धृत किया है । यह एजेंडा पार्टी का एजेंडा न होकर पूरे देश का एजेंडा होना चाहिए । यह राष्ट्र को एक नई दिशा की ओर ले जाएगा । अब हमें वोटों के लिए नए एजेंडे पर काम करना होगा । एजेंडा वही जो वोट दिलाए । एजेंडा वही जो मंत्री पद दिलाए । वोटों के लिए आप घरों – घरों की देहरी धोक डालो । हिंदू को हिंदू एजेंडा तो मुस्लिम को मुस्लिम एजेंडे से लपेटे में लेकर लपेट लो । सिखों को सिख एजेंडा तो ईसाई को ईसाई एजेंडे से धो डालो । बस वोट जुगाड़ प्रक्रिया में लग जाओ । बीवी वही जो शोहर मन भाए ! एजेंडा वही जो पार्टी को वोट दिलाए ! यह देखो पार्टी का नया एजेंडा इस खूंटी पर टंगा है । पार्टी के वोटबटोरू देवों ने इस एजेंडे को तैयार किया है । इसी एजेंडे का प्रचार करो । फेसबुक, वाट्सअप, ट्वीटर पर ट्वीट शास्त्री बन कर वोटरों पर पिल पड़़ो । हमारा नया एजेंडा देश को मंगल ग्रह पर पहुंचा देगा । जाओ और पार्टी के एजेंडे की धूम मचाओ ! बोलिए पार्टी के एजेंडे की जय !’ कह कर उन्होंने अपने प्रवचन को विराम दिया ! सुरा का आचमन किया । भक्तगण एजेंडे के झोले को बाहर ले गए ! दो तरुणियां अंदर गईं । पार्टी मुख्यालय अब भीतर से बंद कर दिया गया ।

(रामविलास जांगिड़)

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar