न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

व्यंग्य : शर्तिया सारे भूत भागते नजर आएंगे

इस मानव जीवन में कदम-कदम पर कई तरह के भूत-प्रेत बाधाएं आपके सामने मुंह फैलाए खड़ी होती है। सामाजिक भूत, राजनीतिक भूत, सांस्कृतिक भूत और बुद्धिजीवी भूत। ये आपके सामने चीत्कार लगाते हुए, हाहाकार मचाते हुए आपका रास्ता रोके खड़े हैं। शास्त्रों में इन सब प्रकार के भूतों पर विजयी होने के तरीके बताए गए हैं। इनमें राजनीतिक रूप से भूतों पर किया गया वार सर्वाधिक प्रभावी बताया गया है। भूतों से बचने के अनेकों उपाय बताए गए हैं। पहला उपाय यह कि गले में किसी राजनैतिक पार्टी का लॉकेट पहनें, पटका लहराएं। सदा पार्टी के वरिष्ठ चमचे का स्मरण करें। पार्टी द्वारा मानने वाले उत्सवों पर पवि‍त्रता का नाटक करें। शराब पीएं और मदमस्त होकर जिएं पर सादगी का ढिंढ़ोरा जरूर पीटें। सिर पर पार्टी की अधिकृत टोपी ही लगाएं। हाथ में पार्टी विचारधारा का मौली-नाड़ा अवश्य बांधकर रखें। चमचेपन की कटोरी में पार्टी मुख्यालय पर अपनी आत्मा, नैतिकता और स्वाभिमान जलाकर खाक कर दें। इससे आकस्मिक, दैहिक, दैविक एवं भौतिक संकटों सहित समस्त परेशानियों से मुक्ति मिलती है।

अज्ञानता का तेल या शुद्ध चमचेपंथ का घी युक्त दीपक सुनसान अंधेरे में जलाकर काजल बना लें। गधा बनकर जी हुजूरी करते हुए या तलवे चाटने वाले कुत्ते का स्वांग करके ये काजल लगाने से तरक्की में रोड़ा बने भूत, प्रेत, पिशाच आदि से रक्षा होती है और ज्ञानियों से लगने वाली बुरी नजर से सुरक्षा होती है। प्रगति में रोड़ा बनने वाली विरोधी प्रेत बाधा दूर करने के लिए चुनावी नक्षत्र में मतदाता का मन जड़ सहित उखाड़कर लाएं। उसे ऐसा धरती में दबाएं कि जड़ वाला भाग ऊपर रहे और पूरा मतदाता धरती में ही समा जाए। इस उपाय से पूरे घर में विरोधी प्रेत बाधा कभी नहीं आती है। इसमें पार्टी एक मात्र साधक का ही कल्याण करती है। प्रेत बाधा निवारक चमचा मंत्र -चमचौअहं ऐं चमह्रींता चमश्रींचा चमह्रांचत्वं पराक्रमाय भूत-प्रेत-पिशाच-शाकिनी-डाकिनी-यक्षणी-पूतना-यक्ष-राक्षस-बेताल-ग्रह-राक्षसादिकम्‌ क्षणेन चमचं चमचं भंजय भंजय मारय मारय फट् स्वाहा। इस मंत्र का पार्टी मुख्यालय में दिन-रात जाप करने से कोई भी सरकारी भूत कभी भी निकट नहीं आ सकते।

सावधानी : पुल या सड़क का ठेका लेकर मिट्टी से निर्माण साधना करते समय कमीशन देव का स्मरण जरूर करें। एकांत में शयन या यात्रा करते समय बारंबार सरकारी ब्यूरोक्रेटी प्रेतों का जरूर ध्यान रखें। पेशाब करने के भी पहले आवश्यक कमीशन अवश्य दें। जगह देखकर ही कमीशनी पेशाब करें। सोशल मीडिया वाले देवता हर जगह अड़ंगा लगाने के लिए तैयार बैठे हैं। रात्रि में सोने से पूर्व मोबाइल पर ऐसे किसी भी सरकारी भूत-प्रेत से चर्चा हरगिज न करें। किसी भी प्रकार के ईमानदारी वाले टोने-टोटकों से बच कर रहें। जहां पर किसी ईमानदार की बलि दी जाती हो। जहां भी नैतिकता के लोबान आदि धुंवे से भूत भगाने का दावा किया जाता हो वहां तो हरगिज न जाएं। सच्चाई व नीतियुक्त भूत भगाने वाले सभी स्थानों से बच कर रहें, क्योंकि यह राजनीतिक धर्म और पवित्रता के विरुद्ध है। यदि साधक थका, घबराया या परेशान सा लगे तो यह नजर लगने की पहचान है। ऐसे में उसके सर से ईमानदारी की 7 लाल मिर्च और नैतिकता के बड़े से चम्मच में चमचागिरी की राई के दाने 7 बार घूमाकर उतारा कर लें। फिर बेईमानी की आग जलाकर इसमें इन्हें भस्म कर दें। यदि डरावने सपने आते हों, तो पार्टी अध्यक्ष का महिमा पाठ करें। पार्टी मुख्यालय में जाएं। पार्टी में यथोचित डॉलरादि का दान करें। शर्तिया सारे भूत सिर पर पांव रखकर भागते नजर आएंगे।

रामविलास जांगिड़,18, उत्तम नगर, घूघरा, अजमेर (305023) राजस्थान

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar