National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

SC ने स्वामी ओम पर लगाया 10 लाख का जुर्माना

सुप्रीम कोर्ट ने न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा को नया मुख्य न्यायाधीश बनाए जाने का विरोध करने वाले विवादित स्वयंभू बाबा स्वामी ओम और उनके सहयोगी मुकेश जैन पर 10-10 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। गौरतलब है कि जस्टिस दीपक मिश्रा को सुप्रीम कोर्ट का 45वां चीफ जस्टिस नियुक्त किए जाने के फैसले का स्वामी ओम ने जमकर विरोध किया था। उन्होंने इस फैसले के विरोध में कोर्ट में याचिका भी दायर की थी। हालांकि कोर्ट ने स्वामी ओम की इस याचिका को सिरे से खारिज कर दिया और गैरजरूरी मुद्दे पर याचिका दायर करने के लिए उन पर 10 लाख का आर्थिक जुर्माना भी लगाया।
प्रधान न्यायाधीश जगदीश सिंह खेहर और न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ की पीठ ने स्वामी ओम और मुकेश जैन पर नजीर पेश करने वाला जुमार्ना लगाते हुए कहा कि यह आवश्यक था ताकि उनके जैसे अन्य लोगों तक संदेश पहुंचे और वह ऐसी याचिकाएं दायर करने से बचें। शीर्ष अदालत ने कहा कि यदि याचिकाकर्ता जुर्माने की राशि जमा नहीं कराते हैं तो इस मामले को एक माह बाद फिर से सूचीबद्ध किया जाए।  स्वामी ओम ने अपनी याचिका में ऐसा कोई उपयुक्त कारण नहीं गिनाया था, जिससे न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा की नियुक्ति पर सवाल खड़ा किया जा सके। उनकी दलील थी कि सेवानिवृत्त हो रहे किसी मुख्य न्यायाधीश द्वारा नए न्यायाधीश के नाम की सिफारिश करना संविधान की भावनाओं के विपरीत है। शीर्ष अदालत ने इस मामले की सुनवाई के दौरान वकीलों से तो अंग्रेजी में बात की, लेकिन उन्होंने अदालत कक्ष में मौजूद स्वामी ओम से हिन्दी में सवाल दागे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar