न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

एसडीएम रामपुर की सोशल मीडिया पर ओडियो हुई वायरल लोकल लोगों ने भी उठाई आवाज़

जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने दो सदस्यीय टीम गठित कर बिठाई जांच

सहारनपुर। सोशल मीडिया पर रामपुर मनिहारन के उप जिलाधिकारी शिव नारायण सिंह का एक ऑडियो वायरल हो रहा है जिसमे उनके द्वारा कोई सामान पहुंचने की बात बोली जा रही हैं वहीं हेडलाइंस इंडिया यूट्यूब चैनल के माध्यम से ये भी ख़बर चल रही है की दो लाख की रिश्वत एसडीएम रामपुर मनिहारन ने मांगी है ओडियो ने एक व्यक्ति एसडीएम के कार्यालय से किसी दूसरे व्यक्ति से बात कर रहा है जिसने दूसरे व्यक्ति से एसडीएम शिव नारायण सिंह साफ़ कहते दिख रहे हैं की मुझे तो एक फूटी कोड़ी भी नहीं मिली वहीं व्यक्ति को ऑफिस में न आकर घर पर आने की बात एसडीएम रामपुर मनिहारन ने कही है वही रामपुर के कुछ अन्य लोगों के द्वारा चैनल पर एसडीएम के कारनामों की पोल खोल रहे हैं व भ्रष्टाचारी बता रहे हैं वहीं जब इस संबंध में रामपुर एसडीएम शिव नारायण सिंह से फ़ोन पर बात की गई तो उन्होंने ओडियो फर्जी होने की बात कही साथ ही कोई सबूत नहीं होने की भी बात कही अब देखना होगा की आखिर उच्चाधिकारी इस वायरल ओडियो का कितना संज्ञान लेते हैं और कितना सत्य को प्रकट कर पाते है जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार भ्रष्टाचार को व भ्रष्टाचारियों को मिटाने में लगे हुए है

वहीं डीएम अखिलेश सिंह ने सोशल मीडिया से प्राप्त आडियों की जांच के लिए दो सदस्यीय समिति गठित जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने गत दिनों सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त आॅडियो जिसमें कतिपय दो व्यक्ति मोबाइल पर किन्ही उप जिलाधिकारी को कुछ सामान (धनराशि) दिये जाने विषयक वार्तालाप कर रहे है। उन्होने कहा कि आॅडियो की सत्यता की जांच के लिए अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) तथा नगर मजिस्ट्रेट की दो सदस्यीय समिति का गठन किया गया है। जो आॅडियों की जांच कर अपनी सुस्पष्ट आख्या प्रस्तुत करेंगे।

डीएम अखिलेश सिंह ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कथित आॅडियों में मोबाइल वार्ता के अन्त में एक व्यक्ति उप जिलाधिकारी की वार्ता दूसरी ओर वार्ता कर रहे व्यक्ति से बात कराता है। उप जिलाधिकारी द्वारा मोबाइल पर वार्ता के दौरान धनराशि के लेन-देन की बात रहे है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रकरण की आॅडियो अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को दी गयी है जो जांच करते हुए अपने सुस्पष्ट जांच आख्या उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे।
जिलाधिकारी ने कहा कि आॅडियों की जांच उपरांत यदि कोई सत्यता पाई जाती है, तो सम्बंधित के विरूद्ध कठोर कार्रवाही की जायेंगी

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar