National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

रखें आखों के पर्दो का भी खास ख्याल

अनमोल आंखों के लिए थोड़ी सावधानी और थोड़ी देखभाल बहुत जरूरी है। आखिर आंखें हैं तो दुनिया की तमाम खूबसूरती के हमारे लिए मायने है। यह जानते हुए भी अक्सर हम आंखों के स्वास्थ्य के बारे में बहुत गंभीरता से नहीं सोचते। आंखों को लेकर कई तरह के सवाल होते हैं पर हम उनको अनदेखा करते हैं। तमाम समस्यओं में से एक मुख्य समस्या रेटिना से जुड़ी हुई भी है। सेंटर फॉर साइट के एडिशनल डायरेक्टर डॉ.रितिका सचदेव का कहना है कि रेटिना आंख की रोशनी के प्रति संवेदनशील अंतरतम परत है, जिसे सामान्यत: तौर पर पर्दा भी कहा जाता है। यह एक प्रकाश संवेदनशील ऊतक है जोकि बहुत ही सूक्ष्म विकसित कोशिकाओं से बनता है जिसे रोड्स और कोन्स कहा जाता है। आंख में प्रवेश करने वाली लाइट पारदर्शी ढांचा-कॉर्निया (पुतली) और लेंस के माध्यम से होकर गुजरती है, और फिर रेटिना तक पहुंचती है। रेटिना ऊतक मस्तिष्क को संकेत प्रेषित करती है, जिससे हमें दृष्टि की इंद्रियों में मदद करता है। रेटिना आंख की सबसे महत्वपूर्ण प्रकाश संवेदनशील परत है। रेटिना रोग के उपचार में किसी तरह की लापरवाही से संभावित आंखों की दृष्टि कम हो जाती है या फिर अंधापन भी हो सकता है।

आंखों के सामने हर वक्तएक पर्दा या परछाई जैसा रहना जो कि कितनी भी बार आंखें धोने पर न जाएं। अचानक से अंधेरा छा जाना या एकदम नया सा दिखना। आंखों के सामने छोटे-छोटे तीनके मलवा या तारों जैसे कुछ उड़ता दिखना। आंखों के तिरछा या कोनो से देखने पर एक तेज प्रकाश सा दिखना।
डॉ.रितिका सचदेव का कहना है कि सिगरेट पीना रेटिना के लिए काफी हानिकारक होता है और यहां तक कि दृष्टि को नुकसान पहुंचाने का कारण भी हो सकता है। सूरज को सीधे देखते रहना या विशेष रूप से सूर्यग्रहण में देखना हानिकारक हो सकता है। मधुमेह के साथ रक्तशर्करा का स्तर बढऩा। वास्तव में, पूरी दुनिया में मधुमेह से नेत्र रोग के कारण अंधापन होना सबसे आम है। उच्च रक्तचाप भी एक अन्य कारण है।
डॉ.रितिका सचदेव का कहना है कि खनिज पदार्थ वैसे तो सामान्य शारीरिक स्वास्थ्य की अच्छी देखभाल रखना सबसे महत्वपूर्ण है। परंतु विटामिन और खनिजों से समृद्ध एक अच्छा भोजन, उम्र से संबंधित नेत्र रोग के जोखिम को काफी कम करता है। आप चाहे तो कुछ खाद्य पदार्थ को लेने की कोशिश कर सकते है जैसे खट्टे फल, मछली, हरी पत्तेदार सब्जियां, पालक, ब्रोकोली और नट्स आदि जिसे आप अपनी डाइट मेें जोड़ सकते है। धूप में अल्ट्रा वायलेट किरणों से बचने के लिए सुरक्षात्मक धूप के चश्में का उपयोग करना चाहिए। आप रोजमर्रा एक साधारण सी आंखों के व्यायाम करने के बेहतरीन तरीके के माध्यम से अपनी रेटिना को स्वास्थ्य रख सकते हैं। कई लोगों को यह एहसास ही नहीं होता है कि आंखें मांसपेशियों से बने होते हैं और किसी भी अन्य मांसपेशियों की तरह, उनका ठीक से उपयोग नहीं करने से कमजोर हो सकते है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar