National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

अरब जगत के पहले मंगल मिशन के लिए UAE तैयार 

अगले महीने जापान से उड़ान भरेगा यान

यूएई। युनाइटेड अरब अमीरात (UAE) अगले महीने मानवरहित यान को मंगल पर भेजगा. यह अरब जगत का पहला अंतरिक्ष मिशन होगा. 14 जुलाई को तनेगाशिमा के जापानी द्वीप से इस मिशन की शुरुआत होगी. मिशन के प्रोजेक्ट मैनेजर ओमरान शराफ  ने कहा, ‘यह मिशन केवल UAE नहीं बल्कि सम्पूर्ण अरब जगत के लिए महत्वपूर्ण है. यह क्षेत्र कठिन समय से गुजर रहा है और हमें अच्छी खबर की जरूरत है. हम चाहते हैं कि हमारे युवा बाहर जाने के बजाए घर में ही संभावनाएं देखना शुरू करें’.
डेटा एकत्र करने के लिए मिशन मंगल पर एक साल तक रहेगा. इस प्रोजेक्ट पर UAE 2014 से काम कर रहा है. शराफ के मुताबिक, इस मिशन में कुछ भी आसान नहीं रहा. पहले दिन से ही समयसीमा चुनौतीपूर्ण बनी हुई है. इसके अलावा बजट की राह में भी कई चुनौतियां हैं.
जापानी तकनीक द्वारा संचालित इस मिशन का उद्देश्य मंगल ग्रह के वायुमंडल की ऊपरी और निचली सतह की जानकारी एकत्र करना है. साथ ही यह ऑक्सीजन और हाइड्रोजन के स्तर को भी मापेगा, ताकि मंगल पर जल स्तर का आकलन किया जा सके. गौरतलब है कि सऊदी अरब के राजकुमार सुल्तान बिन सलमान अल-सऊद 1985 में अमेरिकी शटल से अंतरिक्ष जाने वाले पहले अरब अंतरिक्ष यात्री थे, हालांकि, इस बार यूएई अपना मिशन भेजेगा. संयुक्त अरब अमीरात की उन्नत विज्ञान राज्य मंत्री सारा अल-अमीरी  ने मिशन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस अभियान से संयुक्त अरब अमीरात के वैज्ञानिकों और प्राकृतिक विज्ञान का अध्ययन करने वालों के लिए नए अवसर उत्पन्न होंगे.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar