National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

चंडीगढ़ विश्वविद्यालय ने रचा इतिहास

चंडीगढ़। पिछले कुछ महीनों में दुनिया ने कोविड-19 के रूप में एक तूफ़ान देखा है जिसके लिए कोई तैयार नहीं था। जानमाल का नुक़सान और आर्थिक मंदी ने लोगों को संकट में डाल दिया है। स्नातक, विशेष रूप से अपनी नौकरी की संभावनाओं के बारे में चिंतित हैं, जैसा कि कई रिपोर्ट्स यह संकेत दे रही हैं कि वर्तमान वित्तीय संकट भर्तियों को प्रभावित कर सकता है। हालांकि, चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में ऐसा नहीं है। सभी बाधाओं को पीछे छोड़ते हुए, एजुकेशनल हब ने इस साल कैंपस प्लेसमेंट के दौरान शीर्ष बहुराष्ट्रीय कंपनियों द्वारा कई भर्तियां दी हैं। इंजीनियरिंग, एमबीए, होटल मैनेजमेंट, फार्मेसी, बायोटेक्नोलॉजी, मीडिया और अन्य प्रोग्रामों के छात्रों के लिए 6,617 से अधिक ऑफर किए गए हैं। चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के प्रतिकुलाधिपति डॉ. आरएस बावा ने इस रिकॉर्ड-तोड़ उपलब्धि की सराहना करते हुए कहा: “इस साल भर्ती प्रक्रिया में भाग लेने वाले कुछ बहुराष्ट्रीय कंपनियों में गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, अमेज़न, फ्लिपकार्ट, आईबीएम, नॉटिक्स, कैपजेमिनी, कॉग्निजेंट, एक्सेंचर, विप्रो, वॉलमार्ट, और डेलोइट तथा अन्य थीं। इस साल लगभग 106 बहुराष्ट्रीय कंपनियां शामिल हुईं, जो आईआईटी, एनआईटी और चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में नई प्रतिभाओं के लिए सामान्य भर्ती प्रक्रिया है।” यहां चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में 2020 के कैंपस प्लेसमेंट की कुछ प्रमुख झलकियों पर एक नजर डालते हैं।
डॉ. बावा के अनुसार, यह देख कर ख़ुशी होती है कि कैसे फॉर्च्यून 500 कंपनियों और भारत की शीर्ष 100 कंपनियों द्वारा किए गए ऑफ़र की संख्या में पहले चरण के प्लेसमेंट में भारी उछाल आई है। 1,500 से अधिक छात्रों ने कई ऑफ़र प्राप्त किए हैं, और अब तक का ऑफर किया जाने सबसे बड़ा पैकेज 35 लाख रूपये सालाना है। यह कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग और आईटी इंजीनियरिंग के छात्रों द्वारा लिया गया है। दूसरी ओर, ऑटोमोबाइल और मैकेनिकल इंजीनियरिंग छात्रों को दिया जाने वाला सबसे बड़ा पैकेज 21 लाख रुपये सालाना है। सिविल, इलेक्ट्रॉनिक्स और इलेक्ट्रिकल ब्रांच के छात्रों के लिए, यह सालाना 20 लाख रुपये तक पहुंच गया है।
डॉ. बावा ने कहा, “उत्तर भारत में कॉग्निजेंट, कैपजेमिनी, विप्रो और माइंडट्री जैसी कंपनियों ने सबसे ज्यादा ऑफर दिए हैं।” चंडीगढ़ विश्वविद्यालय ने पिछले कुछ वर्षों में एक विश्वसनीय प्रतिष्ठा हासिल की है, और यहां नई प्रतिभाओं के लिए शीर्ष कंपनियां वापस आ रही हैं। विश्वविद्यालय के अनुसार, इस साल 6 बहुराष्ट्रीय कंपनियां थी, जिन्होंने सालाना 25 लाख रुपये से अधिक के वेतन पैकेज का ऑफर दिया, जबकि 12 बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने सालाना 15 लाख रुपये से अधिक के पैकेज का ऑफर दिया। साथ ही 26 कंपनियों ने सालाना 10 लाख रुपये से अधिक के पैकेज का ऑफर दिया, और लगभग 154 बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने 5 लाख रुपये सालाना के पैकेज की घोषणा की। और यह संख्या साल दर साल बढ़ रही है।
2020 के लिए कैंपस की भर्तियों के लिए चंडीगढ़ विश्वविद्यालय का दौरा करने वाली विभिन्न कंपनियों के बारे में विस्तार से बताते हुए, डॉ.बावा ने कहा, “इंजीनियरिंग छात्रों के प्लेसमेंट के लिए 350 बहुराष्ट्रीय कंपनियां थीं, जबकि 180 कंपनियों ने विभिन्न विशेषज्ञता के एमबीए छात्रों की भर्ती की।” इंजीनियरिंग के लिए औसत पैकेज 7.5 लाख रूपये सालाना, जबकि एमबीए के लिए यह 7.1 रूपये सालाना था।

  • एमबीए प्लेसमेंट चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में अब तक का सबसे अधिक

एमबीए चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में उच्चतम श्रेणी के कोर्स में से एक है, और कैंपस प्लेसमेंट उसका प्रमाण हैं। पिछले साल की तुलना में इस साल विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ बिजनेस में एमबीए के छात्रों के लिए प्लेसमेंट में 40% की बढ़ोतरी देखी गई – 200 बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने 475 छात्रों को कैंपस जॉब ऑफर किया।
डॉ. बावा ने कहा, “इस साल, बिजनेस एनालिटिक्स फर्मों और निजी क्षेत्र के बैंकों ने चंडीगढ़ विश्वविद्यालय से अधिकतम एमबीए छात्रों की भर्ती में अग्रणी भूमिका निभाई।”
नियोक्ताओं की सूची में 56 ऐसे हैं, जिन्होंने देश भर के प्रतिष्ठित आईआईएम के मैनेजमेंट छात्रों को नियुक्त किया है। आईसीआईसीआई बैंक 95 से अधिक छात्रों को जॉब ऑफर करते हुए अग्रणी नियोक्ता के रूप में उभरा। औसत वेतन पैकेज सालाना 7.1 लाख रुपये को छू गया, जिसमें 50 से अधिक बहुराष्ट्रीय कंपनियां 5 लाख रुपये सालाना या अधिक वेतन पैकेज का ऑफर दे रही हैं।
यूएसबी के निदेशक डॉ. नीलेश अरोड़ा ने कहा, “इस साल, यूएसबी ने बहुराष्ट्रीय कंपनियों द्वारा दिए गए ऑफर्स की संख्या में 60% की वृद्धि देखी है। साथ ही एमबीए छात्रों के लिए उच्चतम पैकेज में 100% की उछाल आई है।” उन्होंने कहा कि भारत की शीर्ष ऑनलाइन एजुकेशन फर्मों में से एक, जारो एजुकेशन ने मार्केटिंग छात्रों को सालाना 12.02 लाख रुपये का पैकेज दिया है। दूसरी ओर, ब्रिटेन स्थित बहुराष्ट्रीय कम्पनी डेलॉयट ने फाइनेंस के छात्रों को सालाना 7.87 लाख रुपये का पैकेज ऑफर किया है। चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के कुलपति सतनाम सिंह संधू ने कहा कि “चंडीगढ़ विश्वविद्यालय हमेशा उद्योग केंद्रित शिक्षा प्रदान करने के लिए जाना जाता है और इसके परिणामस्वरूप हमारे छात्र कैंपस प्लेसमेंट के लिए शीर्ष बहुराष्ट्रीय कंपनियों की पसंद बन गए हैं, जो हमारे परिसर में साल-दर-साल नए प्रतिभाओं की तलाश में आते हैं”। उन्होंने कहा कि 2019-20 का प्लेसमेंट सीजन कोई अपवाद नहीं है क्योंकि हमने इस साल कई बहुराष्ट्रीय कंपनियों की संख्या में वृद्धि के साथ ही ऑफर की संख्या में भी वृद्धि देखी है। साल दर साल नए नए कीर्तिमान बनाने हेतु यह चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के लिए यह एक उत्साहवर्धक शुरुआत है।

  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे बिहार के 413 विद्यार्थियों को बैच 2020 की कैंपस प्लेसमेंट दौरान मिली नौकरी

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी घड़ूआं में बैच 2020 की कैंपस प्लेसमेंट के दौरान बिहार के विद्यार्थियों ने बेहतर प्रदर्शन कर देश की ख्यातिप्राप्त कंपनियों में नौकरी पाने में सफलता हासिल की है। बैच 2020 कैंपस प्लेसमेंट में बिहार राज्य के कुल 413 विद्यार्थियों को गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, ऐमज़ॉन, विप्रो तथा फ्लिपकार्ट जैसी दिग्गज कंपनियों से नौकरी की पेशकश हुई है। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के प्रो.चांसलर डॉ. आर.एस. बावा ने बताया कि यूनिवर्सिटी कैंपस प्लेसमेंट के दौरान नौकरी पाने वाले बिहार के 116 विद्यार्थी ऐसे हैं, जिन्हें बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने आकर्षक पैकेज पर मल्टीपल ऑफर प्रदान किए हैं। उन्होंने बताया कि बिहार के जिन 413 विद्यार्थियों को नौकरी के अवसर प्राप्त हुए हैं, उनमें 183 छात्र इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट, 103 एमबीए तथा शेष अन्य विभागों से सम्बन्धित हैं।

  • झारखंड के 168 छात्रों को चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की ‘बैच 2020 कैंपस प्लेसमेंट’ दौरान मिली नौकरी

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी घड़ूआं में कैंपस प्लेसमेंट के दौरान बैच 2020 में झारखंड राज्य विद्यार्थियों ने बेहतर प्रदर्शन कर देश व दुनिया की दिग्गज कंपनियों में नौकरी पाने में सफलता प्राप्त की है। बैच 2020 की कैंपस प्लेसमेंट में झारखंड के 168 विद्यार्थियों को गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, ऐमज़ॉन, फ्लिपकार्ट तथा कॉग्निजेंट जैसी दिग्गज कंपनियों से नौकरी की पेशकश हुई है। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के प्रो.चांसलर डॉ. आर.एस. बावा ने बताया कि यूनिवर्सिटी कैंपस प्लेसमेंट के दौरान नौकरी पाने वाले झारखंड राज्य के 53 विद्यार्थी ऐसे हैं, जिन्हें मल्टीपल आफर प्राप्त हुए हैं। उन्होंने बताया कि झारखंड के जिन 168 विद्यार्थियों को नौकरी के अवसर प्राप्त हुए हैं, उनमें 96 छात्र इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट, 41 एमबीए तथा शेष अन्य विभागों से सम्बंधित हैं।

  • उत्तर प्रदेश के 490 विद्यार्थियों को बैच 2020 की कैंपस प्लेसमेंट दौरान मिली नौकरी

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी घड़ूआं में बैच 2020 की कैंपस प्लेसमेंट के दौरान उत्तर प्रदेश के विद्यार्थियों ने बेहतर प्रदर्शन कर देश की ख्यातिप्राप्त कंपनियों में नौकरी पाने में सफलता प्राप्त की है। बैच 2020 कैंपस प्लेसमेंट में उत्तर प्रदेश के 490 विद्यार्थियों को गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, ऐमज़ॉन, विप्रो तथा फ्लिपकार्ट जैसी दिग्गज कंपनियों से नौकरी की पेशकश हुई है। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के प्रो.चांसलर डॉ. आर.एस. बावा ने बताया कि यूनिवर्सिटी कैंपस प्लेसमेंट के दौरान नौकरी पाने वाले उत्तर प्रदेश के 104 विद्यार्थी ऐसे हैं, जिन्हें एक से अधिक कंपनियों ने नौकरी की पेशकश की है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के जिन 490 विद्यार्थियों को नौकरी के अवसर प्राप्त हुए हैं, उनमें 267 छात्र इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट, 130 एमबीए तथा शेष अन्य विभागों से सम्बन्धित हैं।

  • देवभूमि उत्तराखंड के 340 विद्यार्थियों को कैंपस प्लेसमेंट 2020 के तहत मिली नौकरी

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे उत्तराखंड राज्य के विद्यार्थियों का साल 2020 के कैंपस प्लेसमेंट में बेहतरीन प्रदर्शन रहा है। साल 2020 की कैंपस प्लेसमेंट में उत्तराखंड राज्य के कुल 290 विद्यार्थियों को नौकरियों की पेशकश की गई है। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के प्रो.चांसलर डॉ. आर.एस. बावा ने बताया कि उत्तराखंड देवभूमि राज्य के कुल जिन 340 विद्यार्थियों को नौकरियों की पेशकश की गई है, उनमें से 104 विद्यार्थी इंजीनियरिंग क्षेत्र के हैं तथा 76 एमबीए के छात्र शामिल हैं। वहीँ होटल मैनेजमेंट के 24 छात्रों को कैंपस प्लेसमेंट के तहत नौकरी की पेशकश हुई है। कैंपस प्लेसमेंट के दौरान नौकरी पाने वाले उत्तराखंड के 118 विद्यार्थी ऐसे हैं, जिन्हें एक से अधिक कंपनियों ने नौकरी की पेशकश की है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar