National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

राइज ऑफ द क्यूलनरी एक्सप्लोरर की मेजबानी करेगा विक्रोली कुसीना

भारत में फूड ट्रेंड्स की समीक्षा करने के लिए उद्योग के विचारशील लीडर्स के साथ बातचीत की एक सीरीज

 

मुंबई. गोदरेज ग्रुप की फ्लैगशिप प्रॉपर्टी विक्रोली कुसीना एक बातचीत सीरीज़ की मेजबानी करने जा रही हैजिसका टाइटल हैराइज़ ऑफ़ द क्यूलनरी एक्सप्लोरर. गोदरेज फूड ट्रेंड्स रिपोर्ट –2020 में बताए गए दस में से सात रुझानों पर लॉकडाउन के दौरान तेजी देखी गई है. ऐसे में यह सीरीज वर्ष की मध्यावधि समीक्षा के लिए देश भर के लीडर्सशेफफूड इंफ्लुएंसर्स को एक साथ लाएगी. बातचीत दो भागों में होगी. पहला सेगमेंट 14 से 18 सितंबर के बीच होगी. इसमें इसमें वन ऑन वन इंस्टाग्राम लाइव बातचीत होगीविक्रोली कुसीना इंस्टाग्राम हैंडल (@Vikhrolicucina) पर आयोजित की जाएगी. दूसरा सेगमेंट 21 सितंबर से जूम पर होगा. इसमें क्यूरेटेड पैनल चर्चाओं की एक श्रृंखला होगी. इसमें शेफ वरुण इनामदारशेफ सुवीर सरनशेफ विक्की रतनानीकुणाल विजयकर एक्टरफूड राइटर, टीवी पर्सनैल्टी तारा देशपांडेकुक बुक ऑथर और शेफ रॉकी मोहन गोर्मेट पासपोर्ट के संस्थापक और मेंटॉरअसलम गफूरमहाप्रबंधकलक्जरी डाइनिंग – डाइनआउटमोनिका मनचंदाफूड कंसल्टेंट और लेखक, रौक्सैन बैंबॉटफूड और ट्रैवल राइटर शुभ्रा चटर्जीकुलिनरी रिसर्चरटीवी और वेब निर्माता / निर्देशक और रुशिना मुंसॉ घिल्डियाल जैसे फूड इंडस्ट्री के लीडर्स चर्चा में भाग लेंगे. सुजीत पाटिलवीपी एंड हेड कॉरपोरेट ब्रांड एंड कम्युनिकेशंस, गोदरेज इंडस्ट्रीज लिमिटेड एंड एसोसिएट कंपनीज ने इस आयोजन के बारे में बात करते हुए कहा, ” गोदरेज फूड ट्रेंड्स रिपोर्ट- 2020 ने घर का खाना को टॉप चार्ट में होने का अनुमान लगाया था. कोरोना महामारी ने खाद्य उद्योग के ए खपत को बाधित कर दिया है. हालांकिघर-का-खाना में नए सिरे से आ रही दिलचस्पी ने नए अवसरों जैसे कि नेवरहुडफूड्प्रेन्योरआराम से खाना खाने की प्रवृति को बढाया है. यह रिपोर्ट वास्तव में खाद्य उद्योग के लिए उपयोगी दस्तावेज है. ये मीड इयर बातचीत अगले वर्ष की रिपोर्ट के लिए रास्ता बनाएगा. मैं बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं कि विशेषज्ञ अगले साल के लिए क्या भविष्यवाणी करेंगे.द गोदरेज फूड ट्रेंड्स रिपोर्ट 2020 की सर्वे डिज़ाइनर रुशिना मुंसॉ घिल्डियाल ने कहा“इस महामारी ने वैश्विक खाद्य उद्योग में एक बदलाव ला दिया है. जब हमने इस साल फरवरी में जीएफटीआर 2020 का शुभारंभ कियातो किसी ने भी कल्पना नहीं की होगी कि कुछ हफ्ते बाद ही वैश्विक स्वास्थ्यअर्थव्यवस्था और उद्योग पर इतना भारी संकट आने वाला है. वार्षिक गोदरेज फूड ट्रेंड रिपोर्ट के क्यूरेटर के रूप में मैं मिश्रित भावनाओं के साथ रुझान देख रही हूं. रेस्त्रां उद्योग की स्थिति दुखद हैयह अपनी स्थिति सुधारने के लिए जूझ रहा है. लेकिन जैसे इतिहास ने दिखाया है कि हर संकट समस्या के साथ आगे सकारात्मक भावनाएं भी लाता है. जैसा कि मैंने 2021  के लिए गोदरेज फूड ट्रेंड रिपोर्ट पर काम करना शुरू कियायह साफ होता गया कि हमें चीजों के एक नए क्रम की आवश्यकता है. टीम जीएफटीआर ने पिछले कुछ महीनों में इस बात पर विचार-विमर्श करने के लिए बातचीत की एक श्रृंखला बनाई है कि पिछले कुछ महीनों में किस तरह से रुझान आया है. इसने सामूहिक रूप से यह दर्शाया है कि हमें नई व्यवस्था  में अपना स्थान बनाने के लिए खुद को और अपने व्यवसायों को सुदृढ़ करना चाहिए. गोदरेज फूड ट्रेंड रिपोर्ट एक ऐसी पहल हैजो भारतीय खाद्य उद्योग के विचारशील लीडर्स तक पहुंचती हैजो मात्रात्मक और गुणात्मक इनपुट्स इकट्ठा करती है और फिर आने वाले वर्ष में प्रचलित होने वाले रुझानों का विश्लेषण किया जाता है. गोदरेज फूड ट्रेंड्स रिपोर्ट 2020 के लिए सेलिब्रिटी शेफहोम शेफप्रोफेशनल शेफफूड ब्लॉगरहेल्थ प्रोफेशनल्समीडिया प्रोफेशनल्समिक्सोलॉजिस्टन्यूट्रिशनिस्टरेस्टॉरर्ससोमेलियर्सफूड प्रोड्यूसर सहित 150 से अधिक विशेषज्ञों और थॉट लीडर्स ने अपने एक्सपर्ट क्षेत्रों के बारे में जानकारी साझा की. गोदरेज ग्रुप विभिन्न ब्रांडों जैसे गोदरेज रियल गुड चिकनगोदरेज वेजऑयल्सगोदरेज अप्लायंसेजगोदरेज इंटेरियोगोदरेज प्रोटेक्टगोदरेज जर्सीकार्ट्रिनी नाइव्स आदि के माध्यम से खाद्य उद्योग में अच्छी तरह से स्थापित है. गोदरेज फूड ट्रेंड्स रिपोर्ट अपने स्वामित्व वाले मीडिया प्लेटफॉर्मविक्रोली कुसीना के तहत एक रणनीतिक पहल है. यह गोदरेज को इंगेजमेंट करने और खाद्य उद्योग में एडवोकेट कम्युनिटी का निर्माण करने में सक्षम बनाता है. विक्रोली कुसीना अब एक प्रकाशन मंच में बदल गया हैजहां सभी खाद्य उत्साही नेटवर्क आ कर एक दूसरे का सहयोग कर सकते है. गोदरेज फूड ट्रेंड्स 2020 रिपोर्ट हर फूड प्रोफेशनल की रीडिंग लिस्ट में शामिल होने का वादा करती है. रिपोर्ट www.vikhrolicucina.com से डाउनलोड की जा सकती है.

गोदरेज समूह के बारे में:

1897 में स्थापित, गोदरेज समूह की जड़ें भारत की स्वतंत्रता और स्वदेशी आंदोलन में हैं. वकील से उद्यमी बने हमारे संस्थापक, अर्देशिर गोदरेज शुरु में तो कुछ वेंचर्स में असफल रहे, लेकिन जब उन्होंने ताला व्यवसाय शुरु किया, तो फिर उन्होंने पीछे मुड कर नहीं देखा. आज, हम उपभोक्ता वस्तुओं, रियल एस्टेट, उपकरणों, कृषि और कई अन्य व्यवसायों के जरिए वैश्विक स्तर पर 1.15 बिलियन उपभोक्ताओं से जुडे हैं. वास्तव में, हमारे भौगोलिक पदचिह्न पृथ्वी से परे फैले हुए हैं. हमारे इंजन अब भारत के कई अंतरिक्ष अभियानों को शक्ति प्रदान कर रहे हैं. 4.5 बिलियन अमरीकी डालर से अधिक राजस्व के साथ हम तेजी से बढ़ रहे हैं और हमारी आकांक्षाएं और अधिक रोमांचक है. हमारे लिए, यह सबसे महत्वपूर्ण है कि हम मजबूत वित्तीय प्रदर्शन और इनोवेटिव उत्पादों के अलावा, एक अच्छी कंपनी बने रहें. गोदरेज ग्रुप में प्रमोटर्स की 23 फीसदी हिस्सेदारी ट्रस्ट के पास है, जो पर्यावरण, स्वास्थ्य और शिक्षा में निवेश करता हैं. हम एक अधिक समावेशी और ग्रीन भारत बनाने के लिए ‘साझा मूल्य’ की हमारी गुड एंड ग्रीन रणनीति के माध्यम से अपने जुनून और उद्देश्य को भी साथ ला रहे हैं. इस सब के केन्द्र में, हमारे लोग हैं. हम फुर्तीले और उच्च प्रदर्शन वाली संस्कृति के साथ एक प्रेरणादायक कार्यस्थल को बढ़ावा दे कर बहुत गर्व करते हैं. हम अपनी टीमों में विविधता को पहचानने और उसका मूल्यांकन करने के लिए मजबूती से प्रतिबद्ध हैं.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar