National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

जब रोहित शर्मा ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ हासिल की थी IPL की पहली हैट्रिक

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन में भले ही यूएई की धरती पर मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के फैन अपने कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) से लंबे-लंबे छक्कों की आस लगाए बैठे हों, लेकिन अब से कुछ साल पहले तक रोहित से गेंदबाजी में भी करिश्माई प्रदर्शन की उम्मीद की जाती थी.
इतना ही नहीं आईपीएल इतिहास की पहली हैट्रिक बनाने का श्रेय भी हिटमैन के नाम से मशहूर इस दिग्गज बल्लेबाज के ही खाते में दर्ज है. गेंद के साथ लगातार 3 विकेट चटकाने का ये कारनामा रोहित ने अपनी उसी मुंबई इंडियंस टीम के खिलाफ किया था, जिसे वो लगातार अपनी कप्तानी में हर बार नए पायदान पर ले जा रहे हैं. वो मुंबई को आईपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा खिताब जीतने वाली टीम बना चुके हैं.

आईपीएल-2009 में किया था कारनामा
आईपीएल के दूसरे सीजन के सभी मुकाबले दक्षिण अफ्रीका की धरती पर खेले गए थे. इस कारण सभी टीमों ने तेज गेंदबाजों को ही अपने आक्रमण में ज्यादा तवज्जो दी थी. इसके चलते टीम में मौजूद पार्ट टाइम गेंदबाजों से स्पिन गेंदबाजी ज्यादा कराई जाती थी. इसी दौरान 6 मई 2009 को डेक्कन चार्जर्स (Deccan Chargers) की तरफ से मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेलते हुए रोहित ने महज 6 रन देकर 4 विकेट लिए थे, जिसमें एक हैट्रिक भी शामिल थी.

पहले बल्ले से दिया था अहम योगदान
आईपीएल-2009 के 32वें मुकाबले में डेक्कन चार्जर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 145 रन बनाए थे. रोहित ने चार्जर्स के इस छोटे से स्कोर में 38 रन की पारी खेलकर अहम योगदान दिया था. तब माना जा रहा था कि सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और सनथ जयसूर्या जैसे दिग्गजों की मौजूदगी वाली मुंबई ये लक्ष्य जल्द ही पा लेगी. लेकिन हुआ कुछ और.

पहले आरपी और फिर रोहित ने बरपाया कहर
लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई इंडियंस की शुरुआत ही खराब रही और खब्बू तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने सचिन और जयसूर्या को सस्ते में वापस लौटा दिया. लेकिन दूसरे छोर पर दक्षिण अफ्रीका के टी20 स्पेशलिस्ट जेपी डुमिनी जम गए. डेक्कन के कप्तान एडम गिलक्रिस्ट ने 15वें ओवर अचानक रोहित को गेंदबाजी दे दी. उस समय मुंबई इंडियंस को 26 गेंदों में 43 रन की जरूरत थी और डुमिनी फिफ्टी के करीब थे. ऐसे में मुंबई की जीत तय मानी जा रही थी. लेकिन रोहित ने हैट्रिक बनाकर कहर बरपा दिया.

ब्रोकन हैट्रिक बनाकर किया करिश्मा
रोहित ने 15वें ओवर में रन बनाने का मौका नहीं दिया और 5वीं गेंद पर अभिषेक नायर (Abhishek Nair) को पवेलियन लौटा दिया. अगली ही गेंद पर उन्होंने अपनी ऑफ स्पिन से हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) को चौंका दिया, जो गेंद को अपने पैड पर खेल बैठे और एलबीडब्ल्यू आउट हो गए. हालांकि रोहित का काम अभी खत्म नहीं हुआ था, क्योंकि डुमिनी विकेट पर मौजूद थे.
डुमिनी ने 16वें ओवर में अपने 50 रन पूरे कर लिए. रोहित 17वां ओवर लेकर आए और पहली ही गेंद पर डुमिनी को बीट कर दिया, जो विकेटकीपर गिलक्रिस्ट के हाथों में कैच थमा बैठे. इसके साथ ही रोहित की ‘ब्रोकन हैट्रिक’ पूरी हो गई, जो आईपीएल इतिहास की भी पहली हैट्रिक थी. उनकी इस गेंदबाजी से डेक्कन चार्जर्स ने भी मुकाबला जीत लिया.

6 साल से नहीं की गेंदबाजी
रोहित शर्मा ने आईपीएल में 15 विकेट अपने खाते में दर्ज किए हैं और टीम इंडिया के लिए भी कई बार जोरदार प्रदर्शन अपनी पार्ट टाइम ऑफ स्पिन से किया है, लेकिन पिछले 6 साल से वो गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं. दरअसल उनके कंधे में आईपीएल-2014 के दौरान आई मामूली दिक्कत के चलते उन्होंने गेंदबाजी का मोह छोड़कर पूरा ध्यान अपनी बल्लेबाजी पर ही लगाया है.

आईपीएल में शतक और हैट्रिक बनाने वाले इकलौते क्रिकेटर
रोहित के नाम पर एक जबरदस्त रिकार्ड ये भी है कि वे आईपीएल में बल्ले से शतक और गेंद से हैट्रिक बनाने वाले इकलौते क्रिकेटर हैं. दुनिया का कोई भी धुरंधर ऑलराउंडर ये रिकार्ड बराबर नहीं कर पाया है. रोहित ने आईपीएल में अपना पहला शतक हैट्रिक लेने के तीन सीजन बाद 2012 में केकेआर के खिलाफ 52 गेंद में बनाया था.

ऑफ स्पिनर के तौर पर ही दिया था पहला ट्रायल
रोहित ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत करने के लिए पहला ट्रायल एक आफ स्पिनर के तौर पर ही दिया था. उनके बचपन के कोच दिनेश लाड के मुताबिक 12 साल की उम्र में जब रोहित मैदान पर आए तो ट्रायल चल रहा था, जिसमें बल्लेबाजों की लंबी लाइन लगी थी. लाइन देखकर रोहित ने ऑफ स्पिनर के तौर पर ट्रायल दिया. बाद में एक दिन लाड ने उन्हें मैदान पर बल्ले से नॉकिंग करते देखा तो उनके कायल हो गए और उन्हें बल्लेबाज बना दिया.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar