न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

महिला ने इंसाफ के लिए डीएम व एसएसपी को दिया प्रार्थना पत्र

  • दलित महिला के घर में युवक ने की छेड़छाड़, चौंकी इंचार्ज ने नहीं लिखी रिपोर्ट
  • रिपोर्ट तो लिखी नही बल्कि चौंकी इंचार्ज ने महिला के साथ की अभद्रता व गाली ग्लोच

मोनू कुमार/विजय न्यूज़ नेटवर्क।
सहारनपुर। क़रीब एक सप्ताह पूर्व थाना कुतुबशेर के अंतर्गत पड़ने वाली पुलिस चौंकी मानकमऊ में दलित महिला से पड़ोस के ही मुस्लिम युवक ने घर में घुसकर नशे की हालत में छेड़छाड़ की थी महिला ने युवक के द्वारा जान से का भी आरोप लगाया था जिसमे महिला के द्वारा पुलिस चौंकी में रिपोर्ट दर्ज करवाने का प्रयास किया गया लेकिन महिला का कहना है की पुलिस ने उसकी कोई रिपोर्ट नही लिखी महिला ने दो जून को जिलाधिकारी व एसएसपी को दिए प्रार्थना पत्र में कारवाही करने की बात कही पत्र में महिला ने मानक मऊ चौंकी इंचार्ज सतपाल गौड़ पर जाति सूचक शब्द व अभद्र टिप्पणीयां करने का भी आरोप लगाया है महिला का ये भी कहना है की पुलिस कर्मियों ने आरोपी को बचाने के चक्कर में अभद्रता करते हुए उसके कपड़े भी फाड़े वहीं जब इस मामले की जानकारी थाना प्रभारी विनोद कुमार सिंह से ली गई तो उन्होंने बताया की मुस्लिम लड़के के द्वारा महिला के भाई की लिखित शिकायत चौंकी में की गई थी जिसमे महिला के घर पुलिसकर्मियों को भेज कर महिला के भाई को चौंकी में बुलवाया गया था तभी महिला भी साथ आई और जब उसके भाई व युवक दोनो के खिलाफ़ कारवाही करने की बात की तो महिला भड़क उठी और अभद्रता करने लगी जिसमे चौंकी इंचार्ज ने भी महिला के साथ गाली गलोच कर दी थाना प्रभारी विनोद कुमार सिंह ने कहा की मामले को देखते हुए मैने खुद वहां जाकर दोनो का कोमप्रोमाइज करा दिया था जब उनसे पूछा की क्या लिखित में कोमप्रोमाइज किया गया था तो उन्होंने बताया की नही वैसे ही कर दिया था अब सवाल यह उठता है की क्या महिला की तहरीर ना लिखने की असली वजह कुछ और थी बड़ा सवाल है जबकि एक पुलिस चौंकी में हुई घटना का वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमे महिला के साथ चौंकी इंचार्ज गाली गलौच करते साफ़ दिख रहे है वहीं महिला भी अपना आपा खोते दिख रही है वहींआपकोबतादेंकीचौंकी में इस दौरान एक भी महिला पुलिसकर्मी मौजूद नही थी वहीं थाना प्रभारी विनोद कुमार सिंह की बाते कुछ अटपटी लग रही है जब शिकायत युवक के द्वारा दी गई तो वह लिखित में ली गई और कोमप्रोमाइज बिना लिखा पढ़ी के ही थाना प्रभारी ने करवा दिया जबकि चौंकी इंचार्ज व महिला के साथ अभद्रता की एक वीडियो में साफ़ दिख रहा है की मामला कितना गंभीर और बड़ा है यह विडियो वायरल भी हुई जिसका संज्ञान जिले के कप्तान डा एस चन्नपा को लेना चाहिए जब इस मामले की जानकारी एस पी सिटी राजेश कुमार से ली गई तो उन्होंने फोन नही उठाया अब देखना होगा की क्या दोषी पुलिसकर्मी व चौंकी इंचार्ज के खिलाफ़ पुलिस के आला अधिकारी क्या एक्सन लेते हैं या फिर जो प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री महिलाओं के सम्मान की जो दिन रात बाते करते हैं उस पर कितना अमल किया जाता है वहीं महिला के साथ घर में घुसकर अभद्रता करने वाले युवक को पुलिस ने यूं ही छोड़ दिया क्या महिला को इंसाफ मिल पायेगा ये तो उच्चस्तरीय जांच के बाद ही पता चलेगा फिलहाल तो डीएम अखिलेश सिंह व एसएसपी डा एस चन्नपा से मिल महिला व अन्य लोगों ने शिकायती पत्र सौंपा है वहीं महिला ने एक पत्र प्रदेश के मुख्यमंत्री महिला आयोग व एस सी एस टी आयोग को भी भेज कर न्याय दिलाने की मांग की है देखना होगा की मुख्यमंत्री के दरबार में महिला को कितना इंसाफ मिलता है जिसमे राहुल बौद्ध प्रदीप सोनी रिपब्लिक पार्टी ऑफ आठवले के जिलाध्यक्ष अरविंद मौर्य मंजुल कुमार लांबा शिवकुमार गौतम आनंद मौर्य शुभम सोनीवाल सुनील गोंदवाल सुशील लांबा आदित्य कटारिया आदि लोग मौजूद रहे.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar